बलिया। आधार,पैनकार्ड और बैंक एकाउंट लिंक करने भर से फर्जीवाड़ के अनूठे मामले प्रकाश में आने लगे हैं। जनपद में तैनात शिक्षकों के नाम पर गोरखपुर में भी शिक्षक बन तनख्वाह ले रहे चार लोगों की शिकायत गोरखपुर बीएसए तक पहुंची है। सम्बंधित चारों शिक्षकों को बीएसए ने पांच जुलाई को अपने कार्यालय में तलब किया है। शिकायत करने वालों ने कहा है कि वे दूसरी जगहों पर शिक्षक के रूप में कार्यरत हैं और फर्जी तरीके से उनका पैन कार्ड इस्तेमाल कर गोरखपुर वित्त एवं लेखाधिकारी कार्यालय से वेतन निकाला जा रहा है। बेसिक शिक्षा विभाग में आए दिन इस तरह का मामला प्रकाश में आता है। अभी हाल ही में बलिया के एक शिक्षक की शिकायत पर बेलघाट में फर्जी शिक्षक पकड़ा गया था।

आईटीआर दाखिल करने पर पकड़ा गया गोरखधंधा

आइटीआर दाखिल करने गए बलिया के एक और शिक्षक ने गोरखपुर बीएसए को पत्र लिखकर शिकायत की है कि उनके पैन कार्ड का प्रयोग लेखा विभाग में किया जा रहा है। सीयर (बलिया) प्रावि बिगह पर तैनात प्रधानाध्यापक हृदय नारायण सिंह ने पत्र में कहा कि वह आइटीआर दाखिल करने गए तो पता चला कि उनके नाम और पैन कार्ड का प्रयोग गोरखपुर बीएसए कार्यालय के लेखा विभाग में किया जा रहा है। उन्होंने बीएसए से अपील की है कि फर्जी शिक्षक की जांच कर कार्रवाई की जाए। इसी प्रकार तीन अन्य शिक्षकों ने भी अपने नाम पर फर्जी भुगतान लिए जाने की शिकायत की है। सभी को पांच जुलाई को सुनवाई के लिए बुलाया गया है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि चार शिक्षकों की शिकायतें मिली हैं जिसकी जांच कराई जाएगी।

admin

No Comments

Leave a Comment