जारी है क्राइम ब्रांच का ‘सफाई अभियान’, रिंग रोड पर दूसरे दिन मुठभेड़ में 25 हजारा इनामी लगा हाथ

वाराणसी। एक लाख के इनामी हो चुके कुख्यात अपराधी झुन्ना पंडित ने वरुणापार के इलाके में वारदात करने से परहेज किया है। इन दिनों रिंग रोड की जमीन की कीमतों के आसमान छूने के चलते वह इसी के आस पास गतिविधियों को सीमित रखे था। यहीं पर फायरिंग से लेकर अपहरण कर पिटाई तक करने वाले झुन्ना को उसी की भाषा में पुलिस जबाव दे रही है। शुक्रवार की रात एक बार फिर से रिंगरोड पर संदहा के पास गोलियों की तड़तड़ाहट से लोग सहम गये। बाद में स्पष्ट हुआ कि क्राइम ब्रांच प्रभारी विक्रम सिंह के साथ दूसरे थानों की पुलिस के संग बदमाशों की मुठभेड़ हो रही है। पुलिस की गोली लगने से जख्मी बदमाश की शिनख्त 25 हजारा इनामी टुनटुन पटेल के रूप में हुई है।

गिरोह पर बढ़ने लगा है दबाव

दिव्यांग हत्याकांड के बाद से पुलिस झुन्ना पंडित गिरोह के पीछे पड़ी है। पहले तो इनामी की राशि बढ़ायी गयी और इसके बाद एक-एक कर सदस्यों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया गया है। क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि झुन्ना गिरोह का एक सदस्य रिंग रोड की तरफ से जाने वाला है। इस पर इंस्पेक्टर कैंट अश्वनी चतुर्वेदी और सारनाथ विजय बहादुर सिंह को बुला कर घेराबंदी की गयी। पुलिस को देख बाइक से जा रहे बदमाश ने फायर कर भागने की कोशिश की लेकिन जवाबी गोलीबारी में जख्मी होने के चलते गिर पड़ा।

मौके पर पहुंचे आला अधिकारी

बदमाशों के साथ मुठभेड़ कीसूचना पर एसएसपी आनंद कुलकर्णी, एसपी सिटी दिनेश सिंह,एसपी क्राइम ज्ञानेन्द्रनाथ प्रसाद समेत आला अधिकारी मौके पर पहुंच गये। कहना न होगा कि गुरूवार की देर शाम भी रिंग रोडपर ही क्राइम ब्रांच और पुलिस के साथ मुठभेड़ में झुन्नापंडित गिरोह के दो शॉर्प शूटर्स दबोचे गये थे। 

Related posts