वाराणसी। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट जेपी यादव की अदालत ने बार-बार आख्या मांगे जाने के बावजूद लंका थाना प्रभारी द्वारा आख्या न भेजने पर कोर्ट ने कड़ा रुख अपनाया। अदालत ने इस मामले में लंका थाना प्रभारी को 4 मई को व्यक्तिगत रूप से कोर्ट में उपस्थित होकर कारण स्पष्ट करने का निर्देश दिया है कि क्यों न उनके खिलाफ न्यायालय के आदेश की अवहेलना करने पर दंडात्मक कार्यवाही की जाय।

कई बार मांगने पर भी नहीं भेजी आख्या

गौरतलब है कि आशीष कुमार सिंह ने अदालत में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 156(3) के तहत याचिका दाखिल किया था। आरोप था कि बीएचयू चीफ प्रॉक्टर ने सुरक्षा कर्मियों के साथ मिलकर उसकी दुकान तोड़ दिया और उसे व उसके परिवार वालों को मारापीटा था। इस मामले में न्यायालय ने लंका थाने से आख्या देने का निर्देश दिया था। लेकिन कई बार आदेश के बावजूद लंका पुलिस ने आख्या कोर्ट में नहीं भेजा, जिसपर अदालत ने कड़ा रुख अपनाते हुए लंका थानाप्रभारी को अदालत में तलब किया है।

admin

No Comments

Leave a Comment