फैले न कोरोना वायरस इसलिये 13 होटलों को सीलकर एफआईआर दर्ज, रविवार के ‘जनता कर्फ्यू’ को सभी धर्मगुरुओं का समर्थन

वाराणसी। कोरोना वायरस के संक्रमण एवं उससे बचाव हेतु किए जाने वाले प्रयास एवं कार्यवाही जनपद में युद्ध स्तर पर जारी है। इस क्रम में शुक्रवार को 13 होटलों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराया गया। एसीएम चतुर्थ ने होटल हॉलीडे इन द्वारा विदेशियों की सूचना उपलब्ध न कराये जाने को गंभीरता से लेते हुए एफआईआर दर्ज करा दिया गया। इसके अलावा मित्रम-जियोन इन, पॉल इन, होम स्टे, माही इन, श्री कुंज, एसीएम तृतीय द्वारा होटल आनन्द लॉज, प्रदीप गेस्ट हाउस, त्रिवेणी गेस्ट हाऊस के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराया गया। एसीएम प्रथम द्वितीय ने दो रेस्टोरेन्टों व दो निजी अस्पतालों को नोटिस जारी करने के साथ ही महात्मा मेमोरियल एकेडमी सुन्दरपुर को सील कर दिया गया। स्कूल बंदी के निर्देश के बावजूद महात्मा मेमोरियल एकेडमी खुला पाया गया।

शहर काजी ने भी की यह अपील

अन्नपूर्णा मठ मंदिर के महंत रामेश्वर पुरी ने कहा आइए हम सब मिलकर ‘कोरोना’ से लड़े और आगामी 22 मार्च 2020 दिन रविवार को ‘जनता कर्फ्यू’ का समर्थन करें। ‘सावधानी ही सुरक्षा है’। शीतला माता मंदिर के महंत ने भी जनता कर्फ्यू का समर्थन करते हुए लोगों से है कि लोग रविवार को जनता कर्फ्यू के दौरान अपने-अपने घरों में ही रहे और अपने हाथ-पैर को बराबर धोते रहें और स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताए जा रहे दिशा-निदेर्शों का हर हालत में पालन करें। शहर काजी ने भी 22 मार्च को लगने वाले जनता कर्फ्यू का जोरदार समर्थन करते हुए कहा कि वर्तमान में देश में ही नहीं पूरे विश्व में कोरोना वायरस की खतरनाक बीमारी डेरा जमाए है। दुनिया के कई मुल्कों को इसने अपने चपेट में लिया है। भारत भी इससे अछूता नहीं है। उन्होंने संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि फिलहाल भारत में वह स्थिति नहीं है जो अन्य मुल्कों में है। ऐसी स्थिति में कोरोना वायरस के संक्रमण एवं उससे बचाव के लिए पीएम मोदी ने 22 मार्च दिन रविवार को जनता द्वारा जनता के लिए ‘जनता कर्फ्यू’ लगाकर इस खतरनाक वायरस से बचने के लिए लोगों से अपील की है।

मस्जिदों से अपील, बिना कारण घरों से न निकले

शहर काजी ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वह बिना वजह घरों से न निकले, अपने-अपने घरों में ही रहे, स्वयं भी स्वस्थ रहें और दूसरों को भी स्वस्थ रहने में सहयोग करें। इसके अलावा मुस्लिम समुदाय के एक अन्य धर्मगुरु ने भी जनता कर्फ्यू का लोगों से पालन करने की अपील करते हुए कहा कि अपने मुंह पर रुमाल आदि का प्रयोग करें। लोगो से कम बात करें और जनता कर्फ्यू के दौरान अपने परिवार में ही रहे। कोरोना वायरस के संक्रमण एवं उससे बचाव के संबंध में रविवार को लगने वाले जनता कर्फ्यू के लिए आज लल्लापुरा आदि क्षेत्रों के मस्जिदों के ध्वनि विस्तारक यंत्रों से भी लोगों से जोरदार अपील की गई।

Related posts