वाराणसी। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में हो रहा प्रवासी भारतीय दिवस (पीडीवी) से सिर्फ यहां की नहीं बल्कि प्रदेश की छवि विदेशों में जायेगी। इसी खातिर सरकार ने न सिर्फ झोली खोली है बल्कि हर पहलुओं की बारीकी से निगरानी हो रही है। पीबीडी में सुप्रसिद्ध सिने तारिका हेमा मालिनी का कार्यक्रम होगा। इसी तरह प्रदेश सरकार की ओर से भारतीय शास्त्रीय संगीत, अमृत कुंभ आदि सांस्कृतिक कार्यक्रम रखे गए हैं। विदेश मंत्रालय की टीम संंग आये सचिव मुले ने कहा कि काशी मे 3-4 वर्षों में बहुत विकास कार्य हुआ है। पीएम ने खुद इसे ट्वीट भी किया है। ऐड़े गांव में 42 हेक्टेयर मे बन रहे टेंट सिटी को 6 सेक्टरों में विभाजित कर कार्य तेजी से हो रहा है। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने टेंट सिटी की व्यवस्था, पानी की व्यवस्था, प्रकाश व्यवस्था, यातायात व्यवस्था, खानपान, ट्रांसपोर्ट, ठहरने की व्यवस्था आदि की विस्तार से टीम को जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पूरे शहर वासियों को इससे जोड़ा जा रहा है। शहर को फसाद लाइटिंग, एलइडी, झालरों, वॉल पेंटिंग, सड़क के मरम्मत, साफ सफाई से सजाया जाएगा। काशी वासियों में आतिथ्य भाव है, जो प्रवासी भारतीयों को आत्मीयता का अनुभव कराएगा।

अधूरों को तेजी से खत्म करने पर जोर

सचिव ने विभिन्न विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि 20 दिसंबर तक अपने 80 फीसदी कार्य पूर्ण कर ले ताकि फिर फिनिशिंग टच देने का काम हो सके। पर्यटन विभाग द्वारा काशी के पौराणिक, ऐतिहासिक पर्यटन स्थल आदि की संकलित सूचना प्रवासी भारतीयों के लिए तैयार की जा रही है। टेंट सिटी, टीएफसी पर काउंटर रहेंगे। जहां प्रवासी भारतीय जिस स्थान को देखने की इच्छा करेंगे, उन्हें फेसिलिटेट किया जाएगा। इस अवसर पर विदेश मंत्रालय टीम के सुशील सिंघल, एमपी सिंह, रमेश कामरा, विजेंद्र सिंह, विनोद वडे, पद्ममजा व विशेष सचिव पीबीडी अरुण कुमार सहित डीएम सुरेंद्र सिंह, एसएसपी आनंद कुलकर्णी, नगर आयुक्त डॉ नितिन बंसल, वीसी वीडीए राजेश कुमार, सीडीओ गौरांग राठी, चीफ इंजीनियर पीडब्ल्यूडी सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment