ग़ाज़ीपुर। स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालयों के निर्माण में धांधली का मामला सामने आया है। ताजा मामला जुड़ा है  स्थानीय भदौरा ब्लाक अंतर्गत सेवराई गांव का। धांधली की शिकायतों जे बाद उप जिलाधिकारी सेवराई के आदेश पर एडीओ पंचायत की अध्यक्षता में 2 सदस्यीय जांच दल ने शनिवार कोे मौके पर पहुंचकर शौचालयों की जांच की।

ग्रामीणों ने लगाया था धांधली का आरोप
सेवराई गांव में स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत बनाए जा रहे शौचालयों में भारी धांधली का आरोप लगाते हुए गांव के ही दिनेश सिंह, संदीप सिंह, त्रिभुवन सिंह, राहुल सिंह ,सुरेंद्र सिंह आदि ग्रामीणों ने 12 दिसंबर को तहसील दिवस के मौके पर लिखित शिकायत करते हुए आरोप लगाया था कि सेवराई गांव में बन रहे शौचालय में ग्राम प्रधान द्वारा पुराने शौचालयों पर नया शौचालय दिखाकर योजना का लाभ देते हुए धन निकाल लिया जा रहा है ।

ग्राम प्रधान से हुई तीखी नोकझोंक

वही प्रधान द्वारा शौचालयों में ठेकेदार के माध्यम से मानकों की अनदेखी करते हुए लाभार्थी से ही गड्ढा खुदवा करके प्रधान द्वारा खुद घर से ही सामानों की सप्लाई की जा रही है तथा घटिया ईट वह अन्य निर्माण सामग्रियों का प्रयोग भी मानक के विपरीत किया जा रहा है । उक्त शिकायत को उप जिलाधिकारी सेवराई एस पी श्रीवास्तव ने गंभीरता से लेते हुए खंड विकास अधिकारी को एडीओ पंचायत के अध्यक्षता में जांच समिति गठित कर निष्पक्ष जांच का आदेश दिया शनिवार को एडीओ पंचायत रमेश गुप्ता की अध्यक्षता में एडीओ एमआई नवल किशोर ने सेवराई ग्राम के लगभग 10 -15 शौचालयों की जांच की गई इसमें आरोप लगाने वाले तथा प्रधान समर्थकों में तीखी नोकझोंक भी होती रही। इस संदर्भ में ए डी ओ पंचायत रमेश कुमार गुप्ता ने बताया कि कुल 60 शौचालयों के जांच की लिस्ट मुझे सौंपी गई थी जिसमें 10 – 15 शौचालयों की जांच की गई जांच रिपोर्ट खंड विकास अधिकारी को सौंप दी जाएगी

admin

No Comments

Leave a Comment