डीएम की सराहनीय पहल: निजी स्कूलों को भी 30 अप्रैल तक फीस न लेने की हिदायत, किराया भी नहीं वसूला जायेगा

आजमगढ़। करोना महामारी के चलते देश में लॉकडाउन चल रहा है। रोजाना कमाने-खाने वालों का हाल-बेहाल है। रोोटी के लाले पड़े हैं और चिंता यह भी सता रही है बच्चों के स्कूल की फील से लेकर मकान के किराये का क्या होगा। इसके ध्यान में रखते हुए जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह ने लिए कई सराहनीय निर्णय लिये हैं। डीएम ने आदेशित किया है कि स्कूली बच्चों से सरकारी ही नहीं बल्कि प्राइवेट स्कूल 30 अप्रैल तक नहीं लेंगे कोई भी फीस। किसी भी स्कूल या संस्था द्वारा यदि इस आदेश का उल्लंघन किया गया तो उसके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई होगी।

सभासद से लेकर प्रधान तक करें सहायता

इसके साथ ही डीएम ने स्पष्ट किया है कि गरीब लेबर क्लास लोगों से मकान मालिक अप्रैल तक कोई किराया नहीं लेंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम प्रधानों तथा शहरी क्षेत्रों में नगर पालिकाओं के जरिए से गरीबों भोजन स्वास्थ्य आदि हर प्रकार की सहायता करने में कोई भी कमी नहीं होने देने का संकल्प लिया है। डीएम के मुताबिक जिला प्रशासन की कई टीमें पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुई हैं। इसके अलावा डीएम ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों की सूचना देने के लिए मोबाइल नंबर जारी किए हैं।

Related posts