चंदौली। देश की रक्षा करते हुए शनिवार को जम्मू-कश्मीर के पूंछ के राजौरी सेक्टर में पाकिस्तान की गोलीबारी में क्षेत्र के चंदन राय की शहादत को लेकर लोगों की काफी नाराजगी केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से थी। सीएम को लेकर टीका-टिप्पणी न के बराबर थी लेकिन साफ तौर पर कहा जा रहा था कि राजनाथ ने जब से गृह मंत्रालय संभाला है तब से शहादत आम हो गयी है। कारगिल युद्ध में जितनी शहादत हुई होगी उससे अधिक इनके कार्यकाल के हर साल हुई होगी। इलाकाई नेताओं के समझाने का असर नहीं हुआ तो शिवपुर से विधायक चुने गये राज्यमंत्री अनिल राजभर ने समझाया जिनकी बात पर शहीद के परिजन माने।

1045

पाकिस्तान के खिलाफ दिखा खासा रोष

सोमवार को जब शहीद के शव को अंतिम यात्रा पर लेकर जाने से पहले सेना की मातमी धुन बजी तो बरबस लोगों की आंखे गीली हो गयी। बड़ा हुजूम शहीद के अंतिम दर्शन व विदाई के लिए उमड़ा ता जिसमें पाकिस्तान को लेकर खासा रोष था। लोगों का कहना था कि भाजपा पहले एक के बदले दस के सिर लाने की बात कहती थी लेकिन अब हमें ही आये दिन मातमी धुन सुनने को मिल रही है। पाकिस्तान को उसकी भाषा में सबक सिखाना जरूरी है और केन्द्र को इसके लिए कदम उठाना ही पडेÞगा।

admin

No Comments

Leave a Comment