वाराणसी। संपर्क फॉर समर्थन कार्यक्रम के तहत काशी पहुंचे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने विभाग की उपलब्धियां गिनाते हुए विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। सर्किट हाउस में मीडिया से बातचीत में उनका कहना था सीएम योगी के कार्यप्रणाली पर कोई सवाल नहीं उठा सकता। अलबत्ता कुछ लोग षणयंत्र कर रहे हैं। भाजपा के 5 से 10 लोगो के खिलाफ भी कुछ लोग साजिश कर रहे हैं और उनके निशाने पर चुनिंदा ब्यूरोक्रेट भी है। योगी जी का नारा है भ्रष्टाचार और अपराध के खिलाफ जीरो टोलरेंस।

आने वाले समय में होंगे बड़े बदलाव

विभागीय उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने बताया कि यूपी बोर्ड के परीक्षार्थी सीबीएसई तथा आईएससी बोर्ड के अभ्यार्थियों की बराबरी कर सके इसके लिए एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम लागू किया गया। महज एक साल में पाठ्यक्रम बदलने के साथ उसे उसे लागू कर देना क्रांतिकारी कदम है। भविष्य में भी उच्च शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा के उन्नयन के लिए और भी बदलाव किए जाएंगे। इस साल दो से ढाई महीने में होने वाली बोर्ड परीक्षाएं एक महीने में संचालित की गईं। आगामी लक्ष्य है कि इसे 20 दिन में पूरा करा किया जाये। इस बार पूरी शुचिता के साथ नकल विहीन परीक्षा कराने के संग समय से परिणाम घोषित कर दिए गए।

दिखेंगे और भी क्रांतिकारी परिवर्तन

भविष्य की योजनाओं पर चर्चा करते हुए डिप्टी सीएम ने बताया शिक्षा के उत्थान की खातिर 14 जुलाई को शिक्षाविदों और विशेषज्ञों के साथ बैठक होगी। इस बैठक में नए शैक्षणिक कैलेंडर को कैसे अपडेट किया जाए, इस पर मंथन होगा। माध्यमिक शिक्षा में क्या परिवर्तन लाया जा सकता है, इस पर भी चर्चा होगी। माध्यमिक व उच्च शिक्षा में रोजगार परक पाठ्यक्रम के साथ साथ कौशल विकास को भी पाठ्यक्रम में शामिल किया जाएगा। डिप्टी सीएम का दावा था कि 155 पंडित दीन दयाल उपाध्याय मॉडल स्कूल और 40 अल्पसंख्यक विद्यालयों को आदर्श विद्यालयों का दर्जा देने के साथ परीक्षार्थियों को आधार से लिंक किया गया। मान्यता, संबद्धता से लेकर शिक्षकों तक के ट्रांसफर आॅनलाइन किए गए। इन परिवर्तनों का सकारात्मक असर देखने को मिल रहा है। डिप्टी सीएम ने शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक की जिसमें शिक्षा की गुणवत्ता पर जोर देने को कहा। इसमें क्षेत्रीय सचिव सतीश सिंह, डीआईओएस डा. ओपी राय, संयुक्त निदेशक, उच्च शिक्षा अधिकारी आदि शामिल थे।

admin

No Comments

Leave a Comment