लखनऊ। बागपत जेल के भीतर हुई सनसनीखेज वारदात के बाद आनन-फानन में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी के हत्यारोपी सुनील राठी को लखनऊ जेल भेजने का फैसला लिया गया ता लेकिन संभावित ‘खतरों’ को देखते हुए शासन ने अपना निर्णय अंतिम समय में बदल लिया है। बताया जाता है कि अब सुनील राठी को बागपत जेल से फतेहगढ़ जेल भेजा जाएगा। शुक्रवार की देर शाम शासन ने सुनील राठी की जेल बदलने का आदेश जारी किया है। इससे पहले सुनील राठी को लखनऊ जेल भेजने की चर्चाएं चल रही थी।

लंबे समय तक बजरंगी भी यहां रहा

गौरतलब है कि माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी ने भी लंबा समय फतेहगढ़ जेल की सलाखों के पीछे बिताया था। यहा उसके साथ किसी जमाने में डॉन रह चुके एमएलसी बृजेश सिंह के करीबी सुभाष ठाकुर और मीरजापुर के बाहुबली निलंबित विधायक उदयभान सिंह डाक्टर साथ रहे थे। बागपत जेल में माफिया मुन्ना बजरंगी को जेल की सलाखों के अंदर गोलियों से छलनी करने वाला बंद सुनील राठी अब फतेहगढ़ जेल में रखा जाएगा। मुन्ना बजरंगी से जुड़े लोगों के बीच सुनील राठी का भेजा जाना लोगों के गले के नीचे नहीं उतर रहा।

admin

No Comments

Leave a Comment