सेन्ट्रल जेल हो या जिला अस्पताल, डीएम खुद जाकर देख रहे हैं जमीनी धरातल पर क्य है हाल

वाराणसी। कोरोना वायरस के खौफ से लोगों का हाल-बेहाल है। लॉकडाउन घोषित हो चुका है और दुकाने खुल नहीं रही है। जो मरीज या उनके तीमारदार जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं उन्हें अकारण परेशान किया जा रहा है। सोमवार को औचक निरीक्षण के लिए पीडीडीयू अस्पताल पहुंचे डीएम कौशल राज शर्मा उस समय भड़क गये जब इमरजेंसी ओपीडी के लिए डॉक्टरों द्वारा पर्चा आदि कटवाये जाने तथा दवा आदि के नाम पर इधर-उधर दौड़ाये जाने की शिकायत मिली। डीएम ने फौरी व्यवस्था के तहत सीएमएस डा. वीके शुक्ला को इमरजेंसी ओपीडी के पास ही पर्चा बनाने एवं दवा वितरण का काउंटर खोले जाने का निर्देश दिया।

जमकर लगायी फटकार

गौरतलब है कि पीडीडीयू राजकीय चिकित्सालय के इमरजेंसी ओपीडी के लिए परिसर स्थित ट्रामा सेंटर में परिचय एवं दवा वितरण की व्यवस्था है। इससे मरीजों एवं तीमारदारों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। डीएम ने पीडीडीयू में खांसी, सर्दी, जुखाम, बुखार से पीड़ित आने वाले मरीजों को तत्काल भर्ती कर जांच कराकर उपचार किए जाने का निर्देश दिया है। अन्य रोग से पीड़ित मरीजों को दवा देकर जाने का निर्देश दिया है। निरीक्षण के दौरान इमरजेंसी ओपीडी बाहर होने तथा मौके पर मौजूद डा. अभिमन्यु सिंह से मरीजों को देखे जाने के बाबत जानकारी के दौरान डॉक्टर द्वारा किसी भी मरीज को न देखे जाने की जानकारी पर डीएम ने कड़ी फटकार लगायी। उन्होंने इमरजेंसी ओपीडी बाहर की जगह अंदर कमरे में संचालित करने का निर्देश दिया। इसके बाद डीएम ने राज्य कर्मचारी बीमा निगम अस्पताल पांडेपुर, आयुर्वेदिक अस्पताल चौकाघाट तथा राजकीय महिला चिकित्सालय कबीरचौरा का भी निरीक्षण किया। चौकाघाट स्थित आयुर्वेदिक अस्पताल के तीसरे एवं चौथे मंजिल को कोरोन्टाइन वार्ड बनाए जाने का डीएम ने निर्देश दिया। पीडीडीयू राजकीय चिकित्सालय में अपराहन 2 बजे के बाद फलू का ओपीडी चलेगा।

लोगों को रोककर कर रहे आगाह

डीएम ने एसएसपी प्रभाकर चौधरी के साथ सोमवार शाम केंद्रीय कारागार का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कारागार के चिकित्सालय में भर्ती कैदी मरीजों तथा मौके पर मौजूद चिकित्सकों से उनका हालचाल जाना। इसके बाद डीएम ने मकबूल आलम-चौकाघाट मार्ग पर आने जाने वाले लोगों को रोककर जनपद में हुए लॉकडाउन की जानकारी देते हुए बिना वजह सड़क पर कतई चक्रमण न किए जाने की हिदायत दी। इस दौरान उन्होंने राहगीरों को कोरोना वायरस से संक्रमण एवं उसके बचाव के प्रति जागरूक करते हुए उन्हें मुंह पर मास्क लगाये जाने की जानकारी दी।

Related posts