वाराणसी। परिवहन विभाग की प्रदेशव्यापी चेकिंग अभियान के लपेटे में जिले के कई अधिकारी भी आ गए। विकास भवन नें चल रही चेकिंग के दौरान अपनी स्कार्पियो गाडी से कार्यालय पहुंचे मुख्‍य विकास अधिकारी गौरांग राठी के ड्राइवर को बिना सीट बेल्ट के गाड़ी चलाते पाए जाने पर तुरंत चालान किया गया। इस दौरान सीडीओ भी गाडी में मौजूद रहे। इसके अलावा जिला विकास अधिकारी की गाड़ी के ड्राइवर का भी चालान सीट बेल्ट ना बांधने को लेकर किया गया है।

प्रदेशव्यापी अभियान का दिखा असर

इस सम्बन्ध में एआरटीओ प्रथम श्याम लाल ने बताया कि राज्य परिवहन आयुक्त के आदेशानुसार आज पूरे शहर में सरकारी कार्यालयों में वाहन चेकिंग काअभियान चलाया जा रहा है। सुबह विकास भवन पर चेकिंग अभियान चलाया गया है, जिसमे 13 गाड़ियों का चालान किया गया है। इसके बाद यह अभियान नगर निगम कार्यालय पर चलाया जायेगा। यह अभियान जिले के सभी सरकारी कार्यालयों के अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए चलाया जा रहा है। एआरटीओ वाराणसी ने बनारस में जबरदस्‍त गाड़ी चेकिंग अभियान चलाया है। निशाने पर मुख्‍य रूप से वे गाड़ियां रहीं जिनपर उत्तर प्रदेश सरकार, नगर निगम, विकास भवन, कमिश्नरी और अन्य सरकारी विभागों का उल्लेख किया गया था। चेकिंग अभियान विकास भवन कार्यालय पर पहुंचकर चलाया गया। एआरटीओ प्रथम श्याम लाल के नेतृत्व में यह अभियान शुरू किया गया है।

 पूरे प्रदेश में चलाया जा रहा अभियान
राज्य परिवहन आयुक्त के निर्देशानुसार पूरे प्रदेश में सरकारी विभागों की गाड़ियों के लिए चलाये गये चेकिंग अभियान में हेलमेट, सीट बेल्ट और गाड़ी के कागज़ को प्रमुख रूप से चेक किया जा रहा है। इसका खौफ सोमवार को वाराणसी के विकास भवन पर दिखाई दिया। विकास भवन के मुख्य द्वार पर एआरटीओ प्रथम श्याम लाल के नेतृत्व में सरकारी कार्यालय में कार्यरत्त कर्मचारियों और जिले के अधिकारियों की गाड़ियों के खिलाफ अभियान चलाया गया, जिससे काफी देर तक यहां अफरातफरी का माहौल बना रहा। कुछ कर्मचारी अपनी गाड़ियां लेकर मौके से भागते भी नज़र आये।

admin

No Comments

Leave a Comment