शिल्प बाजार 2019 का हुआ आगाज, कुल 18 प्रदेशों के 375 पुरस्कार प्राप्त शिल्पकार इसमें शामिल

वाराणसी। काशी बहुत ही बड़ा शिल्प का केंद्र है। बनारसी साड़ी, मीनाकारी, पीतल एवं लकड़ी के सामान आदि काशी के अमूल्य धरोहर है। प्रदेश के पर्यटन, संस्कृति एवं धर्मार्थ कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा. नीलकंठ तिवारी ने शनिवार को गांधी शिल्प मेले का उद्घाटन करते हुए जोर देकर कहा कि केंद्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा हर जिलों के वहां के प्रमुख उत्पादों को प्रमोट करके उस व्यवसाय से जुड़े लोगों के स्वावलंबन के लिए एक जनपद एक उत्पाद योजना लागू की गई है। उन्होंने बताया कि काशी गंगा महोत्सव के…

Read More

भगवान विष्णु तथा शिव के ऐक्य का प्रतीक है ‘वैकुण्ठ चतुर्दशी’, सोमवार को इस तरह करें पूजन

वाराणसी। कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी ‘नरक चतुर्दशी’ व शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी ‘वैकुण्ठ चतुर्दशी’ कहलाती है। नरक चतुर्दशी को नरक के अधिपति यमराज की और वैकुण्ठ चतुर्दशी को वैकुण्ठाधिपति भगवान श्रीविष्णु की पूजा की जाती है। यह तिथि अरुणोदय व्यापिनी ग्रहण करनी चाहिए जो इस वर्ष 11 नवम्बर 2019 को पड़ रही है। इसमें प्रात: काल स्नानादि से निवृत्त होकर दिनभर का व्रत करना चाहिए और रात्रि में भगवान विष्णु की कमल पुष्पों से पूजा करनी चाहिए। तत्पश्चात् भगवान शंकर की यथा विधि पूजा करनी चाहिये। रात…

Read More

तमाम ‘निर्देशों’ पर भारी पड़ा यह ‘आदेश’, फैसला मंदिर को लेकर लेकिन मयखानों की बंदी से नहीं मना ‘जश्न’

वाराणसी। श्री राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले ही पुलिस एलर्ट मोड पर थी। आशंका जतायी जा रही थी कि इस निर्णय के विरुद्ध यदि किसी व्यक्ति द्वारा सोशल मीडिया (ट्वीटर/फेसबुक/व्हाट्सअप/इन्स्ट्राग्राम/यूट्यूब/मैसेन्जर आदि) पर आपत्तिजनक या भ्रामक सूचना फैलायी तो आपसी भाई-चारा और सौहार्दपूर्ण वातावरण प्रभावित होने की संभावना रहेगी। ऐसे मैसेजों पर पूर्णतया प्रतिबन्ध लगाने के साथ एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने चेताया था कि अगर इस तरह के मैसेज किसी के संज्ञान में आते है तो तत्काल सोशल मीडिया सेल के मो 7839857011 को सूचित…

Read More

गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल कायम रखने खातिर पुख्ता प्रबंध, डीएम ने की शांति-कौमी एकता एवं सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने की अपील

वाराणसी। दशकों से चल रहे अयोध्या में रामजन्मभूमि विवाद को लेकर फैसला भले शनिवार को आया लेकिन प्रशासन ने इसकी तैयारियां पहले से कर रखी थी। डीएम कौशल राज शर्मा ने जिले को जोनल एवं सेक्टर में विभाजित कर मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारियों की तैनाती की। तीनों जोनल एवं सेक्टर मजिस्ट्रेटों को अपने-अपने तैनाती क्षेत्रों में चक्रमण करते रहने के निर्देश डीएम ने उनके साथ आपात बैठक में दिये। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के परिप्रेक्ष्य में कानून एवं शान्ति व्यवस्था व साम्प्रदायिक सौहार्द बनाये रखने हेतु मजिस्ट्रेटों को निर्देश दिये…

Read More

जान्हवी तट पर काशी गंगा महोत्सव का हुआ आगाज, देव दीपावली तक राजघाट पर होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम

वाराणसी। काशी में गंगा महोत्सव को आरम्भ हुए 25 साल हो गये हैं। देश ही नहीं विदेशों तक इसकी ख्याति पहुंच चुकी है। पहले आरपी घाट पर इसका आयोजन होता था लेकिन कुछ साल पहले राजघाट पर इसे शिफ्ट कर दिया गया है। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिये काशी का गंगा महोत्सव उभरते एवं प्रतिष्ठित कलाकारों को मंच प्रदान करता है। शुक्रवार को 25वें काशी गंगा महोत्सव शुभारंभ करते हुए प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा. नीलकंठतिवारी ने कहा कि काशी के कण-कण में संगीत बसी है।…

Read More

बढ़ी संवेदन शीलता के बावजूद काशी की उपेक्षा! पिछली बार हाइकोर्ट के फैसले से पहले दिया गया था हेलीकाप्टर

वाराणसी। लगभग एक दशक पहले अयोध्या स्थित श्रीराम जन्मभूमि मामले को लेकर हाइकोर्ट का फैसला आना था। उस समय देश के प्रधानमंत्री यहां के सांसद नहीं थे लेकिन सूबे में सर्वाधिक संवेदनशील स्थान के रूप में इसे ही माना गया था। तत्कालीन बसपा सरकार की मुखिया मायावती ने फैसला आने से पहले ही वाराणसी को हेलीकाप्टर उपलब्ध करा दिया था। उस समय जोन के प्रभारी आईजी स्तर के अधिकारी राजेन्द्रपाल सिंह थे। सिर्फ काशी ही नहीं बल्कि प्रयाग से लेकर गोरखपुर तक के इलाका में हवाई गश्त के साथ समन्यवय…

Read More

नोटबन्दी की बरसी पर कांग्रेस का प्रदर्शन, मोदी सरकार पर साधा निशाना

वाराणसी। नोटबन्दी के तीन साल पूरे होने पर कांग्रेस विरोध जता रही है। प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने प्रतीकात्मक शव यात्रा निकाला और अपना विरोध प्रकट किया। इस दौरान पुलिस और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं के बीच हल्की झड़प भी हुई।  एनएसयूआई के विरोध प्रदर्शन अयोध्या को लेकर आने वाले फैसले के मद्देनजर जिला प्रशासन अलर्ट है। शहर में किसी तरह के जूलुस और प्रदर्शन पर रोक है। इसके बावजूद एनएसयूआई के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे। संपूर्णानंद संस्कृत यूनिवर्सिटी में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन शुरू किया। हाथों में…

Read More

जल्द लागू होगी नई शिक्षा नीति, केंद्रीय मंत्री ने बताया…देशभर से इतने आये सुझाव

वाराणसी। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक शुक्रवार को बीएचयू आईआईटी के आठवें दीक्षांत समारोह में शिरकत करने पहुंचे। इस दौरान देश में जल्द ही नई शिक्षा नीति लागू होगी। इसके लिए हमारे पास दो लाख से अधिक सुझाव आये हैं। सुझावों को शॉट लिस्ट किया जा रहा है। जल्द ही फाइनल ड्राफ्ट तैयार हो जाएगा। हम ऐसी शिक्षा नीति तैयार कर रहे हैं जो रोजगारपरक होने के साथ इतिहास की सही जानकारी दे। मेधावियों को दिए मेडलस्वतंत्रता भवन में आयोजित दीक्षांत समारोह में रमेश पोखरियाल निशंक बतौर मुख्य…

Read More

अयोध्या का फैसला आने सेपहले चाक-चौबंद की गयी श्री काशी विश्वनाथ की सुरक्षा, आला अफसरों ने निरीक्षण के संग दिये निर्देश

वाराणसी। अयोध्या में श्री रामजन्मभूमि को लेकर दशकों से चल रहे विवाद का निस्तारण होने के करीब है। सुप्रीम कोर्ट अगले सप्ताह इसका फैसला सुना सकता है। इसे लेकर पूरे देश में सतर्कता बढ़ा दी गयी है। प्रदेश के हर संवेदनशील स्थान को लेकर एहतियात बरता जा रहा है। इसी क्रम में श्री काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एडीजी ब्रजभूषण, कमिश्नर दीपक अग्रवाल सहित कई आला अधिकारियों ने शुक्रवार को निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद उन्होंने अधिकारियों से सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चर्चा की। इस…

Read More

विवादों में आ चुके क्राइम ब्रांच प्रभारी के साथ सर्विलांस इंचार्ज भी निलंबित, डकैती मामले में एसपी के तेवर सख्त

जौनपुर। दीपावली के बाद जंसा (वाराणसी) में दबिश के दौरान अधीनस्थों की जमकर पिटाई के समय नदारद रहना प्रभारी स्वाट इंस्पेक्टर विरेन्द्र कुमार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगाने सरीखा था। बावजूद इसके एसपी ने उनका पुरजोर बचाव किया था। जोन स्तर पर आला अफसरों ने एक सप्ताह पहले थाना लाइनबाजार क्षेत्र स्थित महालक्ष्मी ज्वेलर्स के यहा डकैती की वारदात में जो जानकारियां मांगी वह भी नहीं मिली। एक करोड़ से अधिक की डकैती का मामला दर्ज हुआ लेकिन इसके अनावरण में सार्थक प्रयास करने के बदले सिर्फ जुबानी जमा-खर्च…

Read More