शहादत’ में दिखा राजनैतिक ‘नफा-नुकसान’! जहां प्रदेश सरकार के मंत्री ने की घोषणाएं तमाम वहीं अपने गांव से दूर रहे सपा विधायक

गाजीपुर। देशभक्ति का जज्बा जनपद में देखने को मिलता है। देश की कोई फोर्स हो लेकिन वहां गाजीपुर के जवान जरूर मिलते हैं। किसी बड़ी घटना के बाद शहादत देने वालों में भी जिले के जवान होते हैं। अमूमन शहीद का पार्थिव शरीर जब घर पहुंचता है तो राजनैतिक प्रतिबद्धता तोड़कर सभी वहां पहुंचते हैं लेकिन अनंतनाग के आतंकी हमले में जान गंवाने वाले जैतपुरा गांव में कुछ अलग ही देखने को मिला। यहां के रहने वाले महेश कुमार कुशवाहा का पार्थिव शरीर लेकर खुद प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री डा.…

Read More

जेल में जीत का ‘जश्न’, वीडियो वायरल होते ही मची हडकंप और शुरू हुई जांच

गाजीपुर। लोकसभा चुनावों के परिणाम आने के बाद विभिन्न पार्टियों से जुड़े नेता और कार्यकर्ता अपने अंदाज में जश्न मना रहे हैं। हैरानी की बात यह है कि प्रदेश की जेलें भी इससे अछूती नहीं हैं। ताजा मामला जनपद कारागार का है जहां का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खासा वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में जहां बंदी आराम से मोबइल पर बातें करते दिख रहे हैं वहीं बाहर से मंगाये गये लजीज भोजन का लुत्फ उठाया जा रहा है। चर्चाओं की माने तो वीडियो अपने ‘आका’ की जीत…

Read More

अफजाल ने भांप कर मायावती का ‘दांव’ पीछे खींच लिये थे विजय यादव हत्याकांड से ‘पांव’? अब तो अखिलेश खुद संभाल रहे कमान

गाजीपुर। लोकसभा चुनाव के परिणाम की घोषणा के दो दिन बाद गोसंदेपुर गांव में जिला पंचायत सदस्य विजय यादव की हत्या से कोहराम मच गया था। गठबंधन की तरफ से बसपा के टिकट पर जीते अफजाल अंसारी ने इसे लेकर तेवर तल्ख किये थे। पोस्टमार्टम के बाद शव पहुंचा तो अफजाल उसे रखकर धरने पर बैठ गये। प्रशासन को साफ तौर पर चेतावनी दी कि यदि 48 घंटे में कार्रवाई नहीं हुई तो व्यापक आंदोलन होगा। इसके बाद अल्टीमेटम का समय 48 घंंटे और बढ़ाया गया। इसके बाद मामला ठंडा…

Read More

बेस वोट बैंक पर मायावती के ‘प्रहार’ से अखिलेश भी गठबंधन पर करेंगे पुनर्विचार, सभी सीटों पर किया लड़ने का एलान

गाजीपुर। समाजवादी पार्टी की स्थापना के समय से यादव बेस वोट बैंक रहा है। पिछले दो दिनों से बसपा इसे लेकर जिस तरह से प्रहार कर रही है उससे यह दरकते दिख रहा है। मायावती ने तो ‘भितरघात’ से लेकर दूसरे जो आरोप लगाये उससे मजबूरी में ही सही अखिलेश को गठबंधन पर फिर से विचार करने पर मजबूर होना पड़ा। मंगलवार को मीडिया से बातचीत के दौरान सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गठबंधन पर बोलते हुए कहा कि अगर गठबंधन टूटा है या उसके बारे में जो…

Read More

हिस्ट्रीशीटर की हत्या के बाद घरवालों ने कराया भाजपा नेता को नामजद, सन्नी गिरोह के सदस्य पर थे चार दर्जन मामले

गाजीपुर। सैदपुर के बहरियाबाद बस स्टैंड स्थित दुकान को शनिवार की रात बंद कर लौटते समय अज्ञात बदमाशों की गोली का शिकार हुए हिस्ट्रीशीटर जितेंद्र जायसवाल उर्फ बाबा की हत्या के मामले में पेंच फंस गया है। जितेंद्र के बड़े भाई विजय जायसवाल ने रविवार को इस मामले में भाजयुमो के जिला उपाध्यक्ष सौम्यप्रकाश बरनवाल समेत चार के खिलाफ हत्या का नामजद मुकदमा दर्ज कराया। दरअसल भाजपा नेता के पिता और चाचा की हत्या कर लाखों की लूट के मामले में सनी गिरोह का सदस्य बाबा आरोपित था। बहरहाल पुलिस…

Read More

जिला पंचायत सदस्य की हत्या को लेकर नव निर्वाचित सांसद अफजाल अंसारी धरने पर बैठे

गाजीपुर। सलारपुर गांव (करंडा) में शुक्रवार की रात जिला पंचायत सदस्य विजय यादव उर्फ पप्पू यादव की गोली मारकर हत्या के बाद सियासी पारा एक बार फिर से गरमाता जा रहा है। गठबंधन से बसपा टिकट पर जीते अफजाल अंसारी पहले ऐसे नवनिर्वाचित सांसद हैं जो शपथ ग्रहण से पूर्व ही हत्या मामले को लेकर धरने पर बैठ गये हैं। विजय यादव का शव सड़क पर रखकर धरने पर बैठे अफजाल ने पुलिस पर संगीन आरोप लगाते हुए मांगे रखी। दरअसल शव का पोस्टमार्टम होने के बाद जब शव के…

Read More

मनोज सिन्हा की हार के बाद सोशल मीडिया पर उमड़ा भवानाओं का ‘ज्वार’

गाजीपुर ही नहीं पूरे पूर्वांचल में विकास पुरुष की छवि बना चुके रेल और संचार राज्यमंत्री मनोज सिन्हा की हार के बाद सोशल मीडिया पर भावनाओं का ज्वार उमड़ पड़ा है. गाजीपुर में लोगों का एक बड़ा वर्ग मनोज सिन्हा की हार को पचा नहीं पा रहा है. फेसबुक, ट्वीटर और व्हाट्सअप के जरिए लोग अपनी-अपनी भावनाएं व्यक्त करने वालों की लाइन लगी हुई है. लोग तरह-तरह के कमेंट लिख रहे हैं. किसी की नजरों में जातिगत चक्रव्यूह में मनोज सिन्हा फंस गए तो किसी को लगता है कि अपने…

Read More

सोशल मीडिया चल रही जोरदार तकरार, मनोज सिन्हा नहीं बल्कि ‘विकास’ की हुई है हार

गाजीपुर। प्रदेश की जिन हाइप्रोफाइल सीटों पर दिल्ली तक की नजर थी उनमें से सदर सीट भी शामिल थी। पिछले विधानसभा चुनावों के बार सीएम पद के प्रमुख दावेदार की टक्कर बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल से थी। पिछले पांच सालों में मनोज सिन्हा ने विकास कार्यो पर पूरा ध्यान दिया था और चुनाव के दौरान इसी का वास्ता देकर वह लड़ रहे थे। नतीजे आये तो उनकी करारी हार हुई थी जबकि अफजाल जबरदस्त जीत हुई थी। सोशल मीडिया पर इसे लेकर जमकर बहस चल रही है।…

Read More

यूं बनी बात तो मान गये अफजाल और उनके ‘करीबी’ अतुल राय के खास, पुलिस-प्रशासन ने किये थे तेवर तल्ख

गाजीपुर। ईवीएम को लेकर शुरू हुए विवाद के बाद पहला राउंड जहां गठबंधन के प्रत्याशी अफजाल अंसारी के नाम रहा तो वहीं स्थिति काबू से बाहर जाते देख पुलिस-प्रशासन ने तेवर कड़े कर लिये थे। इससे पहले अंसारी परिवार के करीबी और बाहुबली मुख्तार के खास घोसी से प्रत्याशी अतुल राय के समर्थकों के बवाल के बाद पुलिस ने लाठियां पटक कर खदेड़ दिया था। पहले तो जिच कायम थी लेकिन पुलिस-प्रशासन के तेवर भांपकर मध्यस्त की तलाश होने लगी। पूर्व सांसद खेमे ने एक मीडियाकर्मी पर भरोसा जताया और…

Read More

गाजीपुर में जबरदस्त कांटे की टक्कर, समर्थक कर रहे दावे ‘तमाम’ लेकिन प्रत्याशियों के चेहरे कर रहे ‘हकीकत’ बयां

गाजीपुर। लोकसभा चुनावों के वोटिंग की सिलसिला खत्म होने के साथ तमाम संचार माध्यमों एग्जिट पोल दिखाये जा रहे हैं। सभी के अपने दावे हैं और हर क्षेत्र से कुछ लोगों की बातचीत के आधार पर किये जाने वाले यह दावे कितने सही साबित होंगे यह चार दिन बाद स्पष्ट होगा। अलबत्ता गाजीपुर इकलौती ऐसी सीट है जिस पर भाजपा और गठबंधन के प्रत्याशी खुद आश्वस्त नहीं है कि ऊंच किस करवर बैठेगा। यह तो तय है कि गठबंधन की तरफ से बसपा के टिकट पर मैदान में उतेर पूर्व…

Read More