जौनपुर। खुटहन ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को लेकर हुई मारपीट, पत्थरबाजी आगजनी और फायरिंग के मामले में नया मोड़ आ गया है। पूरे मामले में एक तरफा कार्रवाई का आरोप झेल रही पुलिस बैकफुट पर दिख रही है। पूर्व सांसद धनंजय सिंह और सपा के विरोध का असर देखने मिला है। पुलिस ने अब इस मामले में प्रतापगढ़ के सांसद कुंवर हरिवंश सिंह और उनके बेटे समेत पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इन लोगों के खिलाफ हत्या का प्रयास, बलवा और सरकारी काम में बाधा जैसी संगीन धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

राजीव यादव की तहरीर पर हुई कार्रवाई

खबरों के मुताबिक पिलकिछा गांव निवासी राजीव कुमार यादव ने खुटहन थाने में कुंवर हरिवंश सिंह और उनके समर्थकों के खिलाफ लिखित शिकायत की थी। राजीव कुमार यादव का आरोप था कि अविश्वास प्रस्ताव के दौरान सांसद और उनके समर्थकों ने उनके ऊपर जानलेवा हमला किया था। राजीव की शिकायत पर पुलिस ने सांसद के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। पुलिस की इस कार्रवाई को लेकर सियासी गलियारे में कई तरह की चर्चाएं हैं। सूत्रों के मुताबिक घटना के बाद स्थानीय पुलिस ने जिस तरह से जाति विशेष के लोगों के खिलाफ कार्रवाई की, उसकी शिकायत योगी दरबार तक पहुंचीं। सरकार को इस बात का डर था कि इस घटना का असर कहीं निकाय चुनाव पर ना पड़े। लिहाजा सरकार ने स्थानीय पुलिस को तत्काल सांसद और उनके समर्थकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया।

 

 पूर्व सांसद धनंजय ने खोला था मोर्चा

वहीं इस मामले में आरोपी पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने घटना के बाद से ही स्थानीय प्रशासन और कुंवर हरिवंश सिंह के खिलाफ मोर्चा खोला था। उन्होंने पुलिस की कार्रवाई को गलत ठहराते हुए फंसाने की बात कही थी। धनंजय सिंह के अलावा समाजवादी पार्टी ने भी घटना की निंदा करते हुए पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी।

admin

No Comments

Leave a Comment