कैंट-लहरतारा निमार्णाधीन फ्लाईओवर की शटरिंग गिरने से दो जख्मी, काम पूरा करने की जल्दबाजी या बरती गयी लापरवाही!

वाराणसी। सेतु निर्माण निगमकी लापरवाही एक बार फिर से सामने आई है। शुक्रवार की दोपहर बाद कैंट स्‍टेशन के सामने निर्माणधीन फ्लाईओवर की शटरिंग गिरने से अफरा तफरीमच गई। हादसे में दो लोग जख्मी हो गए, जिसमें सेना का एक जवान भी शामिल है।  घायलों को अस्पताल में भर्तीकराया गया है। प्रत्यक्ष दर्शियों के मुताबिक तकरीबन साढ़े तीन बजे पुल पर काम चल रहा था, तभी अचानक ऊपर से लोहे कीप्लेटें गिरने लगी। इसके चपेट में आने से दो लोग जख्मी हो गए। प्लेट गिरने से राहगीरों में अफरा तफरी का माहौल बन गया। हालांकि जिस वक्त हादसा हुआ मौके पर भीड़ कम थी। आवाजाही को रोका नहीं गया था।

हादसों से नहीं लिया सबक

गौरतलब है कि सेतु निर्माणकी लापरवाही की ये पहली घटना नहीं है। इसके पहले 16 मई2018 को फ्लाईओवर का बीम गिरने से 15 लोगों की मौत हो गई थी जबकि कई लोग जख्मी हुए थे। इस घटना में भी सुरक्षा के व्‍यापक इंतजाम नहीं किए गए। इसके चलते एक बार फिर हादसा हो गया। सेतु निर्माण की ओर सुरक्षा की दृ‍ष्टि से टीआरबी के जवानों की डयूटी लगाई गई लेकिन यातायात जारी ही रहा।

विधायक ने कहा होगी कार्रवाई

खास यह कि फ्लाइओवर का काम काफी पहले हो जाना चाहिये था लेकिन धीमी गति से काम केचलते निरीक्षण पर आने वाले आला अधिकारी पहले ही इसे जल्द पूरा करने को लेकर चेता चुके हैं। घटनाक्रम की जानकारी मिलनेके बाद मौके पर पहुंचे कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव का कहना था कि लापरवाही अक्ष्यम है और इस मामले में कार्रवाई तय है। इससे पहले भी कई अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई हो चुकी है। 

Related posts