नई दिल्ली। गाजीपुर के जमानिया विधानसभा के बेटाबर गांव की बेटी डाक्टर ममता राय की संंदिग्ध हालात में मौत का मामला तूल पकड़ता जा रही है। ममता राय के परिजनों के संग बसपा नेता अतुल राय की अगुवाई में इंसाफ दिलाने की मांग को लेकर रविवार की शाम इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला गया। कैंडल मार्च निकालनेवालों ने एम्स की डाक्टर ममता राय की मौत के प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच के साथ अविलंब दोषियों पर कार्यवाही और उनकी गिरफ्तारी की मांग की गई।

176

कांफ्रेंस में हिस्सा लेने की खातिर गयी थी कोच्चि

गौरतलब है कि देश के सर्वाधिक प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्थान एम्स में कार्यरत महिला डॉक्टर ममता रॉय की मौत केरल के कोच्चि में हो गई थी। ममता एक मेडिकल कांफ्रेंस में हिस्सा लेने की खातिर वहां गई थी। उनका शव होटल के कमरे से बरामद हुआ था। न तो कोई सुसाइड नोट था न ही कुछ ऐसा जिससे लगता कि ममता ने खुदकुशी की हो। दूसरी तरफ साथ गये डाक्टर इसे खुदकुशी करार दे रहे थे। पिता अरविन्द राय समेत मृतका के परिजनों ने तीन सहयोगी डॉक्टर संजय, डॉक्टर आलोक और डॉक्टर नेहा पर साजिश के तहत हत्या किए जाने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया। इस मौके पर विकास त्रिपाठी, प्रशांत राय, नीरज राय, मनीष राय, आजाद खान, नवीन ,अभिनव एवं सैकड़ो युवा मौजूद थे।

177

admin

No Comments

Leave a Comment