जौनपुर। सत्ताधारी भाजपा का मुकाबला करने की खातिर प्रदेश के दो प्रमुख राजनैतिक दल समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी अगला लोकसभा चुनाव महागठबंधन के तहत लड़ने की सहमति बना चुके हैं। सीटों का चयन होना बाकी है और कर्नाटक चुनाव के परिणाम आने के बाद इसकी कवायद शुरू होनी थी। इसे लेकर कोई सहमति बनती इससे पहले ही निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय निषाद ने पूर्व सांसद व विधानसभा चुनाव पार्टी के पूर्व प्रत्याशी धनंजय सिंह को उम्मीदवार घोषित कर दिया। डा. संजय का कहना था कि क्योंकि पिछले चुनाव में अकेले निषाद पार्टी ने अपने बूते एक लाख मत प्राप्त किया था।

गठबंंधन के तहत 20 सीटों की मांग

गोरखपुर संसदीय सीट जीतने के बाद पहली बार जौनपुर आए डा. निषाद रविवार को शहर के एक होटल में मीडिया से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गठबंधन के तहत 20 सीट मांगी है। इसे लेकर बातचीत चल रही है। उन्होंने कहा कि वह सपा के साथ इसलिये हैं कि निषाद समुदाय को सम्मान देने के काम सपा ने ही किया। पार्टी अनुसूचित जाति के लाभ के लिए सात जिलोंं में आंदोलन शुरू होने जा रहे हैं जिसके लिए तैयारी पूरी कर ली गयी है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार गलत ट्रैक पर चल रही है। सभी चुनावी वादों को भूल गयी। मछुआ प्रकोष्ठ का गठन आज तक नहीं हो सका। आरक्षण के मुद्दे पर पार्टी का नजरिया स्पष्ट करते हुए कहा सबको आर्थिक आधार पर इस का लाभ मिलना चाहिए। अनुसूचित जाति के प्रमाण-पत्र के लिए सात बाहुल्य जिलों में आंदोलन होगा। धरने की तैयारी की सिलसिलें में ही यहा आया हूं।

जौनपुर में बड़े प्रदर्शन की तैयारी

डा. निषाद का कहना था हमारी पार्टी गोरखपुर, जौनपुर, सुल्तानपुर, महराजगंज, सोनभद्र समेत कुल 20 सीटों पर दावेदारी करेगी। इसमें गोरखपुर और जौनपुर सीट विशेष होगी। प्रेसवार्ता में मौजूद पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने कहा कि पार्टी की ओर से आयोजित धरना प्रदर्शन की तैयारी चल रही है। जौनपुर में बड़ा प्रदर्शन होगा। इस मौके पर एमएलसी प्रिंसू सिंह समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

admin

Comments are closed.