वाराणसी। निकाय चुनाव में लापरवाही बरतने एवं बगैर अनुमति मुख्यालय छोड़ने को लेकर डीएम योगेश्वर राम मिश्र ने सख्त तेवर अख्तियार किये हैं। डीएम ने तीन अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर पूछा कि क्यों ना उनके विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराया जाए। गौरतलब है कि पूर्व में मिले निर्देश के बावजूद बिना अनुमति लिए मुख्यालय से अधिशासी अभियंता सिडको अशोक कुमार, सहायक खादय आयुक्त पार्थ अच्युत एवं आवास-विकास के अभियंता आरए वर्मा गायब पाये गये थे। डीएम ने सभी कार्यालयाध्यक्षों एवम कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिया हैै कि निकाय निर्वाचन के दौरान बगैर उनके अनुमति कोई भी अधिकारी कर्मचारी न ही अवकाश पर जाएं और न ही मुख्यालय छोड़े। अन्यथा प्रकाश में आने पर ऐसे अधिकारी कर्मचारियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही किया जाएगा।
पहले दिन के प्रशिक्षण से नदारद रहने वालों को चेतावनी
निकाय चुनाव के मतदान कार्मिकों के प्रथम प्रशिक्षण के पहले दिन 10 कार्मिक अनुपस्थित रहे। जिसमें प्रदीप कुमार पटेल एवं शिवप्रकाश सिंह, सहायक अध्यापक हरहुआ, चन्द्र प्रकाश यादव सहायक अध्यापक पिण्डरा, मनोज कुमार श्रीवास्तव ग्राम पंचायत अधिकारी, चेतनारायण प्रधानाध्यापक एवं आनन्द कुमार सिंह प्रधानाध्यापक अराजीलाइन, नरसिंह सहायक अध्यापक चिरईगांव, पादबल्लभ बख्सी प्रधानाध्यापक काशीविद्यापीठ, प्रभुनारायण सिंह सहायक अध्यापक सेवापुरी तथा सुरेन्द्र कुमार पटेल सहायक अध्यापक एबीएसए कार्यालय वरूणापार जोन अनुपस्थित रहे। डीएम ने अनुपस्थित कार्मिकों को मंगलवार को आयोजित प्रशिक्षण शिविर में उपस्थित होकर प्रशिक्षण प्राप्त किये जाने का निर्देश देते हुए कहा कि अन्यथा अनुपस्थित कार्मिकों के विरूद्व एफआईआर दर्ज कराकर विभागीय कार्यवाही की जायेगी।

admin

No Comments

Leave a Comment