बनारस में मोदी-योगी की होर्डिंग पर फेंकी गई काली स्याही, सरदार सेना पर लगा आरोप

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आरक्षण की आग धधकने लगी है। पिछड़ा वर्ग आरक्षण में बंटवारे को लेकर सड़क पर उतरी सरदार सेना ने सर्किट हाउस के पास लगे पीएम मोदी और सीएम योगी की होर्डिंग पर काली स्याही फेंक दी। इसके बाद सरकारी मशीनरी में हड़कंप मच गया।

सरदार सेना ने निकाला था जुलूस

सरदार सेना की ओर से शनिवार को मलदहिया से कचहरी तक जुलूस निकला गया था। इस दौरान जुलूस जैसे ही जिला मुख्यालय पहुंचा, उत्साहित कार्यकर्ताओं ने कमिश्नरी और सर्किट हॉउस पर लगे हुए राज्य सरकार की योजनाओं और प्रवासी भारतीय दिवस की होर्डिंग पर लगी मुख्यमंत्री की तस्वीर पर इस जुलूस में मौजूद सरदार सेना के कार्यकर्ताओं ने स्याही फेंक दी।

क्या है सरदार सेना की मांग ?

पिछड़ों के आरक्षण बटवारे और विश्वविद्यालयों में 13 पॉइंट रोस्टर के खिलाफ सरदार सेना विरोध जुलूस निकाल रही है। सरदार सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष आर एस पटेल के नेतृत्व में 27 प्रतिशत आरक्षण में बटवारे के विरोध और 57 प्रतिशत आरक्षण की मांग के साथ मलदहिया चौराहे से सरदार सेना ने आज आरक्षण बढाओ जन आन्दोलन का आह्वान किया था। सरदार सेना के सैंकड़ों सदस्य जब सर्किट हॉउस पहुंचे तो वहां लगी प्रवासी भारतीय दिवस की होर्डिंग पर छपी मुख्यमंत्री की तस्वीर पर सरदार सेना के कार्यकर्ताओं ने स्याही फेकी और उसे लाठी से फाड़ने का प्रयास भी किया।

Related posts