बलिया। बैरिया विधानसभा क्षेत्र से चुने गये भाजपा सुरेन्द्र सिंह अपने विवादित बयानों के चलते जाने जाते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से लेकर अपनी ही सहयोगी पार्टी सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर तक को वह खरी-खरी सुना चुके हैं। माध्यमिक विद्यालय के शिक्षकों को वेतन न मिलने से नाराज होकर विधायक सुरेंद्र सिंह बुधवार को जिलाधिकारी कार्यालय पर धरने पर बैठ गए। विधायक का कहना है जब तक इन शिक्षकों को वेतन नही मिल जाता तब तक धरना चलता रहेगा। अपनी ही सरकार के खिलाफ विधायक के धरने की जानकारी मिलने पर प्रशासनिक हल्के में खलबली मच गयी। मशक्कत के बाद उन्हें आश्वासन देकर मनाया जा सका।

कर्नाटक में अच्छे ‘खिलाड़ी’ आ जायेंगे अपनी टीम में

कर्नाटक चुनाव में बीजेपी द्वारा सरकार बनाने के दावे के बाद बहुमत जुटाने के सवाल पर पत्रकारों से बात करते हुए सुरेंद्र सिंह ने कहा कि कर्नाटक की जनता ने बीजेपी को स्वीकार किया है और अब बहुमत की बात है तो दूसरी पार्टी के विधायकों से याचना किया जाएगा। जिसको आना होगा आएगा। जो अच्छे खिलाड़ी होंगे वो हमारी टीम में आ जाएंगे। भाजपा तो बहुमत के करीब है लेकिन जिसके तीन दर्जन विधायक हैं वह मुख्यमंत्री बनने के लिए उनके पांव पड़ रहा है जो चुनाव भर उसके खानदान को गालियां देते रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment