चंदौली। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के जनपद और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्रनाथ पाण्डेय के संसदीय क्षेत्र के जनप्रतिनिधि खासी सुर्खियों में रह रहे हैं। किसी के आपराधिक इतिहास की खातिर मुख्य सचिव को हाईकोर्ट में हलफनामा देना है तो किसी के यहां से भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद हो रही है। राजनीति में शुचिता और दूसरों से अलग होने का दावा करने वाली पार्टी के विधायक शारदा प्रसाद की राइस मिल से 66 पेटी शराब बरामद होने के बाद पुलिस सफाई की मुद्रा में है। एक तरफ चकिया के विधायक इसे विरोधियों की साजिश करार दे रहे हैं तो दूसरी तरफ पुलिस का दावा है कि उन्हीं के प्रतिनिधि की सूचना पर बरामदगी की गयी है। सूत्रों की माने तो राइस मिलों हो रही बरामदगी के क्रम में कार्रवाई हुई थी लेकिन मामला विधायक का निकलने के बाद इलाकाई पुिलस बचाव की मुद्रा में आ गयी।

विधायक की तरफ से दी गयी सफाई

चकिया विधायक के प्रतिनिधि अश्वनी के मुताबिक फतेहपुर कलां गांव स्थित बंद पड़े राइस मिल पर विरोधियों द्वारा अवैध शराब की 66 पेटियां रखकर उनकी छवि को खराब करने का प्रयास किया गया है। शनिवार की रात्रि अज्ञात लोगों द्वारा बंद राइस मिल की बाउड्री तोड़ उसमें 66 पेटी अवैध शराब रख दिया गया। सुबह जब विधायक का पशु पालक चन्द्रबली यादव दूध दूंहने के लिए राइस मिल में पहुंचा तो वहां पर टूटी बाउड्री और ट्रक के पहिये का निशान दिखे। शराब की पेटियां देख उसने तत्काल इसकी सूचना विधायक प्रतिनिधि को दी। सूचना पर चंदौली कोतवाली प्रभारी आशुतोष ओझा पहुंचे। अलबत्ता फर्द एसआई देवेन्द्र यादव ने लिखी जिसमें मौके से बांबे मार्का के 66 पेटी अवैध शराब की पेटियों की बरामद दर्शायी। इन पेटियों को बकायदा तिरपाल से ढका गया था। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ आबकरी अधिनियम की धारा 60/63 एवं 427 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया। कोतवाल ने कहा कि मामले की छानबीन किया जा रहा है।

admin

Comments are closed.