बलिया। विशुनपुरा गांव (बैरिया) में गुरुवार की शाम बड़े भाई की हत्या करने आये तीन बाइक सवारो ने गांव के बाहर बकरी चराते समय 8 साल की बहन करिश्मा पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसायी। फायरिंग से बच्ची की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि भाई जान बचा कर भागने में सफल रहा। सनसनीखेज वारदात की सूचना पर मौके पर पहुंची बैरिया पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक के परिजनो ने घटना का कारण पुलिस को पड़ोसी से रंजिश बताया है। घटना के चलते इलाके में आतंक है। रात तक इस मामले में किसी को नामजद नहीं किया गया था।

पहले घर तक गये थे हमलावर

विशुनपुरा निवासी दयाशंकर नट के पुत्र को तीन बाइक सवार मौत के घाट उतारने के इरादे से आये थे। तीनों बाइक सवार पहले दयाशंकर के घर गये, जहां कोई नहीं मिला तो वह गांव के बाहर आ गये। वहां दयाशंकर की पुत्री करिश्मा बकरी चरा रही थी और वही उसका भाई भी था। बाइक सवारो ने जैसे ही फायर झोका, करिश्मा बीच में आ गयी। गोली लगने से उसकी मौत मौके पर हो गयी। सूचना पर बैरिया पुलिस व सीओ उमेश कुमार यादव मौके पर पहुंच गये। शव को कब्जे में ले लिया। घटना का कारण जानने के लिए पुलिस परिजनो से बात चीत कर रही थी। सीओ ने बताया कि तहरीर मिलते ही मुकदमा पंजीकृत होगा और आरोपी गिरफ्त में होगा। सूत्रो की माने तो करिश्मा का भाई अपराधी प्रवृति का है। घटना की जांच पड़ताल में पुलिस जुटी हुई है।

admin

No Comments

Leave a Comment