गाजीपुर। भोजपुरी सिंगर और एक्टर मोहन राठौर और उनकी पत्नी के बीच विवाद गहराता जा रहा है। एक ओर मोहन राठौर जहां पत्नी से तलाक लेने पर अड़े हैं वहीं उनकी पत्नी रिश्ते को बचाने में जुटी हुई हैं। अदालत के निर्देश पर दोनों पारिवारिक परामर्श केंद्र पहुंचें लेकिन यहां भी बात नहीं बनी। मोहन राठौर ने साफ कह दिया कि उन्हें तलाक से कम, कुछ भी मंजूर नहीं।

पत्नी ने दी रिश्तों की दुहाई

दरअसल मोहन राठौर एवं उनकी पत्नी निर्मला के बीच पिछले सात साल से विवाद चल रहा है। रिश्ते इस कदर खराब हो चुके हैं कि मोहन ने पत्नी से तलाक के लिए न्यायालय में वाद दाखिल कर दिया है। इस बीच रिश्ते में सुधार की उम्मीद लगाए पत्नी पारिवारिक परामर्श केंद्र पहुंच गई। बताया जा रहा है कि बातचीत के दौरान मोहन ने पत्नी पर आरोपों की झड़ी लगा दी, वहीं पति के साथ ही रहने की आस लगाए पत्नी की आंखों से आंसुओं की धार बहती रही। जनपद के दिलदारनगर थानांतर्गत मिर्चा गांव के रहने वाले मोहन राठौर अपनी पत्नी के चरित्र पर ही सवाल खड़े कर दिए और आरोपों की बौछार कर दी। मोहन ने रिश्ते में सुधार की संभावनाओं को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि अब तलाक ही एकमात्र विकल्प बचा है। वहीं पत्नी निर्मला ने कहा कि मेरे पति भले ही मुझे अपने साथ ना रखें, मैं ससुराल में ही रहना चाहती हूं। निर्मला ने कहा कि वह तलाक नहीं चाहती।

रक्त कैंसर से पीड़ित है पुत्री

सन 2010 के सुर संग्राम विजेता मोहन राठौर और उनकी पत्नी निर्मला की एक पुत्री भी है, जो रक्त कैंसर से पीड़ित बताई जाती है। कैंसर जैसी घातक बीमारी से जिंदगी की लड़ रही मासूम के तलाक के बाद भविष्य को लेकर भी लोग चिंतित हैं।

admin

No Comments

Leave a Comment