बेटी को लेकर ‘नीयत’ थी खराब, बाधक बनी मां की सिर कूंचकर ले ली जान

मीरजापुर। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर योगी सरकार कुछ भी दावे कर लेकिन उनके खिलाफ हिंसा की घटनाओं में बढोत्तरी होती जा रही है। ताजा मामला देवहट गांव का है जहां रविवार की देर रात घर में सो रही एक महिला को सिर कूंच कर मौत के गाट उतार दिया गया। वजह, आरोपित की नजर मृतका की बेटी पर थी और उसे बाधक समझ कर वारदात को अंजाम दिया। मौके से भागते समय बेटी ने उसे देख लिया और शोर मचाते हुए सभी को इसकी जानकारी दी। मामला तूल पकड़ने पर सक्रिय हुई पुुलिस ने छापेमारी करते हुए आरोपित अमिल को धर-दबोचा। सीओ रमाकांत सिंह ने स्वीकार किया कि डूूमंडगंज में महिला की सिर कूंचकर हत्या मामले मुकदमा दर्ज करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रकरण की जांच की जा रही है।

एक दिन पहले भी घर में घुसा था आरोपित

बताया जाता है कि शनिवार की रात भी अनिल गलत नीयत से उसके घर में घुस गया। महिला ने उसे देखा तो शोर मचाते हुए धमकी दी। इस पर अनिल ने महिला को हमेशा के लिए चुप कराने की योजना बनायी। योजना के तहत अनिल रविवार की रात दो बजे वह उसकी झोपड़ी में पहुंचा। खाट पर सो रही महिला की बोल्डर से सिर कूंच कर हत्या कर दी। मां की चीख सुनकर बेटी की नींद खुल गई। उसने मां को आवाज दी जिसे सुनकर अनिल भागने लगा। बेटी ने अनिल को भागते हुए देखा और उसने पुलिस को सूचना दी। मामले में बेटी की तहरीर पर पुलिस ने अनिल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

Related posts