चंदौली। सकलडीहा विधायक के नेतृत्व सपा कार्यकतार्ओं के धरना प्रदर्शन के बाद सक्रिय हुई पुलिस ने गुरुवार की रात छोटू यादव की मौत मामले के दो आरोपियों विसुंधरी गांव से गिरफ्तार कर लिया। डीएम ने इसके लिए शुक्रवार की मोहलत मांगी थी। इस मामले में पुलिस सात अन्य आरोपितों की तलाश कर रही है। दो आरोपितों के पकड़े जाने के बाद दूसरे पक्ष ने भी सपा के तर्ज पर अधिकारियों पर दबाव बनाने का प्रयास किया। गिरफ्तारी से क्षुब्ध गांव के लोगों ने एसपी आफिस पर प्रदर्शन किया। अंतर्राष्ट्रीय क्षत्रिय राजपूत संघ के बैनर तले प्रदर्शनकारी पकड़े गए लोगों को बकसूर बताते हुए छोड़ने की मांग कर रहे थे। एसपी संतोष सिंह के निष्पक्ष कार्रवाई के आश्वाशन पर विरोध-प्रदर्शन समाप्त हुआ।

मारपीट को जातिगत रूप देने की कोशिश

सदर कोतवाली के बसंतपुर में 7 दिसंबर को विसुंधरी व बसंतपुर के दो पक्षों में मारपीट हो गई थी। संघर्ष में घायल छोटू यादव की एक पखवारे बाद बीएचयू में इलाज के दौरान मौत हो गई। मौत के बाद मामले को जातिगत रूप देने कोशिश शुरू हो गयी। पहले सपा ने मुखर विरोध किया तो पुलिस गुरुवार को अमरेंद्र सिंह व विनोद कुमार सिंह को गिरफ्तार कर लिया। उनके समर्थन में दूसरी बिरादरी के लोग उतर गये। बताया जाता है कि सत्ताधारी दल के कुछ नेता दो खुल कर सामने नहीं आ सकते एक संघ के बैनर तले विरोध-प्रदर्शन को शह देने में जुटे रहे। एसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा साक्ष्य के आधार पर कार्रवाई होगी। दोषी को छोड़ेंगे नहीं और बेकसूर को फंसाया नहीं जायेगा।

admin

No Comments

Leave a Comment