बिहार चुनाव के पहले बिछने लगी आरक्षण की बिसात, कांग्रेस ने BJP पर तेज किया हमला

वाराणसी। कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर आरक्षण समाप्त करने का आरोप लगाते हुए आंदोलन तेज कर दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बुधवार को कांग्रेस पार्टी के पूर्व केंद्रीय मंत्री दीपेंद्र हुड्डा ने प्रेस कांफ्रेंस कर बीजेपी सरकार पर आरक्षण समाप्त करने का आरोप लगाया है। दीपेंद्र हुड्डा ने उत्तराखंड की सरकार पर कोर्ट में दिए गए हलफनामे का हवाला देकर आरक्षण समाप्त करने का आरोप लगाया। 
क्यों सवालों में हैं बीजेपी ? 
इस साल के अंत में बिहार में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। साल 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने भी आरक्षण को लेकर बयान दिया था। नतीजा ये हुआ कि चुनाव में बीजेपी को भारी नुकसान हुआ। इस बार भी कुछ ऐसा ही होता दिख रहा है। उत्तराखंड सरकार द्वारा कोर्ट में एससी एसटी के आरक्षण को समाप्त करने के लिए दिए हलफनामे के बाद कांग्रेस हमलावर हो गई है। दीपेंद्र हुड्डा ने आरोप लगाते हुए कहा कि इस बात से ये साबित होता है कि संघ और केंद्र सरकार दलित विरोधी है। 
ट्रंप के दौरे पर किया तंज 
दीपेंद्र हुड्डा ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के भारत दौरे पर भी तंज किया। गुजरात में सड़क किनारे बन रही दीवारों को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश की वास्तविक स्थिति को भी डोनाल्ड ट्रंप के सामने दिखाना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि आईएसआई को भारत में प्रवेश करवाने वाली बीजेपी थी। जिसने पठानकोट में हमले की सबूत दिखाने के लिए आईएसआई को देश में प्रवेश करवाया। कांग्रेस ने ये 70 सालों में नहीं किया।

Related posts