होने से पहले सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई बसपा प्रत्याशी पर रेप का मुकदमा दर्ज कराने वाली पर नयी ‘आफत’ आयी, जानिये मामला

वाराणसी। घोसी के सपा-बसपा गठबंधन प्रत्याशी अतुल राय अब तक बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबी और अपने खिलाफ दर्ज मामलों के चलते चर्चा में रहते थे लेकिन ताजा घटनाक्रम से वह समूचे देश में बहस का सबब बन गये हैं। उन पर रेप का मुकदमा कायम हुआ है जिसके चलते चुनाव छोड़कर वह फरार चल रहे हैं। एक दिन पहले जहां मायावती-अखिलेश निर्दोष होने की दुहाई दे रहे थे वहीं गुरुवार को पीएम मोदी ने नाम लिये बगैर करारे प्रहार किये। इसके साथ आरोप लगाने वाली युवती के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी हो चुकी है। गौरतलब है कि अतुल राय को इस मामले में हाइकोर्ट तक से कोई राहत नहीं मिली है और शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है।

कोर्ट में दिया था एक ने प्रार्थनापत्र

अतुल का मामला सुर्खियों में आने के बाद नवीन राय नामक युवक ने एक लाख रुपया नही देने पर वीडियो वायरल कर दुराचार का मुकदमा दर्ज कराने की धमकी पर कोर्ट में आवेदन देकर मुकदमा दर्ज कराने की गुहार लगाई थी। न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम आशुतोष तिवारी की अदालत ने लंका एसएचओ को युवती के खिलाफ समुचित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर विवेचना का आदेश दिया है। भोगावीर निवासी युवक नवीन ने अपने अधिवक्ता अनुपम द्विवेदी के जरिये दिए गये आवेदन में कहा कि सत्यम रॉय उसका मित्र था और उसी की मित्र विपक्षी युवती थी जिससे यूपी कालेज में मुलाकात हुई इस दौरान युवती नवीन से सम्पर्क कर अवैध सम्बन्ध का दबाब बनाने लगी,नवीन ने जब यह जानकारी मित्र सत्यम को दी तब उसने बताया उससे बचकर रहना वह धोखाधड़ी कर पैसा बनाती है सन्दीप सिंह स्वर्णकार से वह लाखो ऐंठ लिया। इसी क्रम में बीते 6 अप्रैल के बाद से जब नवीन ने युवती से बात करना बंद कर दिया तब युवती ने एक लाख की मांग की नही देने पर वीडियो वायरल कर दुराचार में फंसाने की धमकी दी। इससे डरा सहमा बताते हुए और एसएसपी को आवेदन देने के बावजूद कुछ नहीं होने पर कोर्ट की गुहार लगाई।

Related posts