बाहुबली विजय मिश्र ने संजय निषाद को ‘ग्रीडी डॉग’ कहा, अचानक लखनऊ रवाना होने से चर्चाओं का बाजार गर्म

भदोही। राज्यसभा चुनाव के दौरान खुलेआम भाजपा प्रत्याशी को वोटिंग कर चर्चा में आये ज्ञानपुर के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा पुराने तेवर में आ गये हैं। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय निषाद द्वारा पार्टी से निष्कासित किये जाने पर ‘ग्रीडी डॉग’ ( लालची कुत्ता ) की उपाधि तक दे डालू। विवादित बयान के बाद भी विधायक रुके नहीं बल्कि यहां तक कह डाला कि दलितों ने नाम पर ‘वसूली’ और राजनैतिक सौदेबाजी करने वाले अपनी पार्टी का समायोजन सपा में कर चुके हैं। सीएम योगी की प्रशंसा करते विधायक का कहना था उनकी आस्था ‘महाराजजी’ में है और वह जो आदेश करेंगे वैसा ही करूंगा।

सभी कार्यक्रम रद्द कर लखनऊ रवाना

विजय मिश्र सोमवार को अचानक सभी कार्यक्रम रद्द कर लखनऊ रवाना हो गये जिसके बाद चर्चाओं का बाजार गर्म है। माना जा रहा है कि राज्यसभा चुनाव में पार्टी लाइन से इतर क्रॉस वोटिंग के चलते विजय मिश्रा को मंत्रीमंडल के संभावित फेरबदल बदल में स्थान मिल सकता है। लगभग दो दशक से राजनीति में सक्रिय विजय मिश्र चौथी बाार विधायक चुने गये हैं और सपा छोड़ने के बाद पूर्वांचल में ब्राह्मण नेता के रूप में अपनी पहचान बना रहे हैं।

नयी पार्टी बनाने का दिया संकेत

निषाद पार्टी से निलंबित होने के बाद विजय मिश्रा ने नई पार्टी के संकेत दिये हैं। इस बाबत पूछे जाने पर वह खुल कर कुछ कहने से हिचकिते दिखे। अलबत्ता यह स्वीकार किया कि पिछड़ो, अति पिछड़ों के हित में ऐसा करना आवश्यक हुआ तो नई पार्टी भी बनायी जा सकती है। कुछ सहयोगियों से विचार करने के बाद फैसला लिया जायेगा। आवश्यक कार्य से अचनानक लखनऊ जाना पड़ा लेकिन वापसी के बाद जल्द ही इसका ऐलान होगा।

Related posts