वाराणसी। सैयदराजा के बाहुबली विधायक सुशील सिंह एक बार फिर से चर्चा में हैं। ऐसा किसी राजनैतिक दांव के चलते नहीं है बल्कि एक 50 हजारा इनामी अनिल भाटी के साथ ‘नजदीकियां’ के चलते। सोशल मीडिया पर सुशील की कई ऐसी फोटो वायरल हो रही है कि जिसमें वह इनामी के साथ बलगलीर ही नहीं हैं बल्कि कदमताल करते भी दिख रहे हैं। फोटो वायरल उस समय हुई है जब सीएम योगी काशी में थे और पीएम मोदी आने वाले हैैं। जिस 50 हजार के इनामी को पूरे प्रदेश की पुलिस के साथ एसटीएफ खोज रही है उसे विधायक साथ लिये घूम रहे हैं इस पर विरोधी भी तंज कसने से नहीं चूक रहे हैं। बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे और नेशनल शूटर अब्बास अंसारी ने तो इसे भाजपा का दोहरा चरित्र करार दिया है।

446

‘सत्ता का दुरुपयोग कर संरक्षण दे रहे सुशील’

बसपा के युवा नेता अब्बास अंसारी ने मुख्यमंत्री योगी को घेरते हुए कहा कि यही भाजपा का दोहरा चरित्र है जो खुद तो अपराधमुक्त प्रदेश की बात करते हैं मगर उन्ही के विधायक इनामी और कुख्यात बदमाश से कंधे से कंधा मिलाकर चलने में सबसे आगे आगे हैं। अब्बास तो यहां तक कहते हैं कि भाजपा विधायक सुशील सिंह सत्ता का दुरुपयोग करते हुए जिस तरह इनामी व कुख्यात बदमाशों को संरक्षण दे रहे हैं उससे साफ जाहिर हैं कि ये शरीफ और सम्मानित समाज के लोगों के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं।

447

सुशील ने दी सफाई, अपना काम करे पुलिस

इस बाबत विधायक सुशील सिंह का कहना है कि जिस समय के फोटोग्राफ हैं उस समय अनिल पर कोई इनाम नहीं था। विधायक होने के नाते लोग उनसे मिले रहते हैं। हो सकता है फोटोग्राफ ऐसे ही किसी समय का हो सकता है। यदि वह इनामी है तो पुलिस अपना काम करे। हम कोई रोकने तो जा नहीं रहे हैं।

admin

No Comments

Leave a Comment