‘ब्राह्मण कार्ड’ खेलने के साथ बाहुबली विधायक ने दी ‘खुदकुशी’ की धमकी, ‘अपनों’ के विरोध में आने से बढ़ी ‘मुश्किलेंं’

भदोही। ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्र पूर्वांचल की राजनीति में एक पहचाना हुआ नाम है। माफिया डॉन बृजेश सिंह हो मुख्तार अंसारी कभी किसी ने सामने आकर मुखालफत करने की हिम्मत नहीं की। इससे पहले भी वह खुल कर मायावती से लेकर अखिलेश यादव तक से टकरा चुके हैं लेकिन पहली बार वह कानून के ‘शिंकजे’ में गिरते नजर आ रहे हैं। वजह, इससे पहले की हर लड़ाई में परिवार लामबंद होकर साथ रहता था लेकिन इस दफा ब्लाक प्रमुख भतीजे मनीष से लेकर परिवार का एक खेमा विरोध में आ चुका है। विधायक को इसका आभास हो चुका है जिससे वह अब खुल कर ‘ब्राह्मण कार्ड’ खेलने का मन बना चुका है। साफ शब्दों में कहा कि मैं मैं बा्रह्मण हूूं और यही कारण है कि मेरी हत्या की साजिश रची जा रही है।

वायरल हो रहा विजय मिश्र का यह वीडियो

गौरतलब है कि प्रकरण की शुरूआत भी एक वायरल वीडियो से हुई थी जिसमें विधायक फोन पर टोल टैक्स के ठेकेदार को धमका रहे थे। इसके बाद से दोनों पक्षों के कई कई वीडियो वायरल हो चुके हैं। ताजा मामला बाहुबली विधायक के वीडियो का है जिसमें उन्होंने कहा है ब्राह्मण होने के नाते मेरे खिलाफ हत्या की साजिश रची जा रहीं है। मेरी किसी भी रात हत्या हो सकती है। हम इस सरकार में खुद आत्महत्या करना चाहते है। पुलिस मेरी गिरफ्तारी की साजिश रच रहीं है। यह सब आगामी जिला पंचायत चुनाव से मुझे बेदखल करने कि साजिश रची जा रहीं है। उन्होंने यहां तक कह डाला कि मैं एमएलसी पत्नी रामलली के साथ खुदकुशी कर लूंगा।

सरकार पर प्रहार, योगी की जयकार

खास यह कि एक तरफ तो वह स्वाजातीय समेत दूसरे आला अधिकारियोंं को साजिश का हिस्सा बत रहे हैं तो दूसरी तरफ सीएम योगी का जयकार लगा रहे हैं। वह कहते हैं कि हमने सीएम योगी से मुलाकात का समय मांगा है। सीएम से अगर मुलाकात का समय मिला तो वह सब कुछ बताएँगे। वह अच्छे मुख्यमंत्री हैं लेकिन पुलिस और अधिकारियों का रवैया यहीं रहा तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। साथ ही यह कहने से नहीं चूकते कि वह भदोही को माफियाओं का चारागाह नहीं बनने देंगे। इसके लिए चाहे जो कुर्बानी क्यों न देनी पड़े। जानकारों का कहना है कि विधानसभा का सत्र आरम्भ होने तक ‘बाबा’ इसकी तरह मामले को डायवर्ट रखेंगे। असली ‘खेल’ तो सदन में देखने को मिलेगा।

Related posts