चुनावी चक्कलस में ‘बदजुबानी’ पड़ सकती है भारी, पूर्व दर्जाप्राप्त राज्यमंत्री की नामजदगी संग शिकंजा कसने के तैयारी

वाराणसी। काशी देश की धार्मिक और सांस्कृतिक राजधानी मानी जाती है। पीएम मोदी का संसदीय होने के नाते यहां पर देश-विदेश की मीडिया जुट ही नहीं रही बल्कि तमाम कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं। ऐसे में विरोधियों के बीच गाजी-गलौज के साथ हाथापायी की नौबत आ जा रही है। पुलिस-प्रशासन ने इसे लेकर सख्त तेवर अखित्यार किये हैं। अस्सी घाट पर एक समाचार पत्र के कार्यक्रम में बदसलूकी की लिखित शिकायत मिलने पर पुलिस ने पूर्व राज्यमंत्री दर्जाप्राप्त सपा नेता मनोज राय धूमचंडी के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। सूत्रों की माने तो पुलिस पहले से कड़ी कार्रवाई कर संदेश देना चाहती है कि चाहे कोई हो कार्रवाई से गुरेज नहीं रहेगा।

अधिवक्ता ने दी थी तहरीर

अधिवक्ता और पूर्व महानगर मंत्री भाजयुमो वाराणसी आयुष सिंह राजपूत ने रविवार को भेलूपुर थाना में सपा प्रवक्ता और पूर्व राज्य मंत्री मनोज राय धूपचंडी के खिलाफ तहरीर दी। आयुष सिंह का आरोप है कि 14 मार्च को अस्सी घाट पर एक डिबेट के दौरान मनोज राय धूपचंडी व उनके कुछ साथियों ने अभद्रता पूर्ण तरीके से गाली-गलौज किया और जान से मारने की धमकी दी थी। पुलिस ने आईपीसी की धारा 323, 504 और 506 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर विवेचना शुरू कर दी है।

Related posts