आजमगढ़। रौनापार इलाके के माहापार गांव के पास शनिवार की शाम एसयूवी सवार कुछ लोगों ने एक लड़की को फेंककर फारर हो गए। बताया जा रहा है कि गैंगरेप के बाद कार सवारों ने उसे सड़क किनारे फेंक दिया। हालांकि अभी तक रेप की पुष्टि नहीं हो पाई है। गंभीर हालत में जख्मी लड़की को बीएचयू के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ा
खबरों के मुताबिक माहापरा गांव के रहने वाले एक शख्स ने देखा कि कुछ लोग लड़की को फेंककर भागने की कोशिश कर रहे हैं। लड़की के शोर मचाने पर आसपास के लोग जुट गए और गाड़ी का पीछा शुरू कर दिया। उनमें से कुछ ने फोन पर पुलिस को मामले को सूचित किया। पुलिस चालक के साथ एसयूवी को पकड़ने में सफल रही जबकि अन्य भागने में कामयाब रहे। पुलिस कार को पुलिस थाने में ले गई, जबकि लड़की को अस्पताल में अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी स्थिति में तेजी से गिरावट देखने पर डॉक्टरों ने उन्हें वाराणसी में बीएचयू के ट्रॉमा सेंटर के लिए रेफर कर दिया।डीआईजी आजमगढ़ विजय भूषण ने कहा कि प्रारंभिक पूछताछ के दौरान गिरफ्तार व्यक्ति ने अपने सहयोगियों के नामों का खुलासा किया। पहचानकर्ताओं को पकड़ने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

आरोपियों में एक नेता भी शामिल

ऐसा कहा जाता है कि पकड़े हुए युवाओं ने बताया कि वे एक राजनीतिक दल के नेता के ड्राइवर के दोस्त थे। पुलिस आरोपियों की पहचान का पता लगाने के लिए लड़की की स्थिति में सुधार की प्रतीक्षा कर रही है। पुलिस ने कहा कि चिकित्सा रिपोर्ट के आने के बाद ये मालूम हो पाएगा कि क्या लड़की के साथ रेप हुआ है या नहीं।

admin

No Comments

Leave a Comment