जौनपुर। देश के विभिन्न हिस्सों में मुंह की खाने के बाद नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ में हमले तेज कर दिये हैं। इस सप्ताह हुई घटनाओं में पूर्वांचल के तीन युवा शहीद हो चुके हैं। ताजा मामला नक्सली हिंसा के लिए कुख्यात सुकमा का है जहां गुरुवार की सुबह आईईडी ब्लास्ट में करियांव गांव (मीरगंज) के राजेश् कुमार शहीद हो गये। सूचना पहुंचने पर गांव में कोहराम मच गया। शुक्रवार को का राजेश कुमार के पार्थिव शरीर के आने की संभावना है।

कांबिंग को निकली थी कोबरा बटालियन

सुकमा (छत्तीसगढ़) के कांकेरलंका और पुसवाड़ा के बीच गुरुवार को सीआरपीएफ की 206 कोबरा बटालियन के जवान सर्चिंग पर निकले थे। इस दौरान कमांडों राजेश कुमार का पैर नक्सलियों द्वारा प्लांट आईईडी पर पड़ गया। आईईडी ब्लास्ट होने से जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। साथी उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जा रहे थे लेकिन रास्ते में प्राण-पखेरू उड़ गये। इससे पहले वाराणसी और गाजीपुर के जवान भी नक्सलियों के हमले में शहीद हुए थे।

admin

No Comments

Leave a Comment