आजमगढ़। नये डीजीपी के कार्यभार ग्रहण करने से पहले आजमगढ़ पुलिस ने इनामियों की सूची से एक नाम कम कर दिया है। अपराध एवं अपराधियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के क्रम में मंगलवार की अल सुबह 25 हजार के इनामी छन्नू सोनकर को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान मार गिराया। आमने-सामने हुई मुठभेड़ में एसओ जहानागंज अंगद तिवारी बुलेट प्रूफ जैकेट के चलते घायल होने से बालबाल बच गये लेकिन सिपाही सुभाष घायल हो गया। घायल सिपाही सुभाष का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। छन्नू पर हत्या और लूट के दर्जनभर से अधिक मुकदमे दर्ज थे। मौके से पुलिस ने एक रिवाल्वर व एक बाईक बरामद की। कार्यभार ग्रहण करने के बाद एसपी अजय साहनी के नेतृत्व में यह चौथी मुठभेड़ है जिसमें इनामी मारा गया जबकि एक दर्जन से अधिक घयल हुए हैं।

बाइक लूट कर भाग रहे थे बदमाश

पुलिस के मुताबिक मारा गया बदमाश छन्नू व उसका साथी किसी की बाईक छिनैती कर भाग रहे थे। इसकी सुचना डायल 100 पर होने के बाद कि जहानागंज पुलिस ने घेराबंदी कर चेकिंग शुरू की। पुलिस और बदमाशो में बैजहा (जहानागंज) में मुठभेड़ हो गई। भाग रहे बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायर कर दिया। एसओ जहानागंज अंगद तिवारी की बुलेट प्रूफ जैकेट मे लगी गोली जिसके कारण वह बाल बाल बच गए जबकि कांस्टेबिल सुभाष को गोली लगने के बाद वह बुरी तरह घायल हो गए। पुलिस की जबावी फायरिंग में बदमाष छन्नू घायल हो गया तथा उसका एक साथी मौके से फरार हो गया। घायलो को जिला अस्पताल लाया गया जहां घायल बदमाष की इलाज के दौरान मौत हो गई। आसपास के जनपदों में छन्नू सोनकर हत्या-लूट सरीखी वारदातों मे रहा शामिल है।

admin

No Comments

Leave a Comment