चंदौली। भारतीय जनता पार्टी मिशन 2019 को पूरा करने में पूरी तरह से जुट गई है। पार्टी हर उस मौके को भुनाना चाहती है, जिसमें उसे वोटबैंक दिखाई दे रहा है। हर उस मुद्दे को टटोला जा रहा है, जो उसे फिर से दिल्ली की गद्दी पर बैठाने में मददगार हो। बीजेपी ने एक बार फिर से हिंदुत्व कार्ड खेलते हुए मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेलवे जंक्शन कर दिया। मौका बड़ा था लिहाजा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सहित कई बड़े नेता भी पहुंचे। अमित शाह ने लोकसभा चुनाव का बिगुल फूंकते हुए विरोधियों पर जमकर हमला बोला। बांग्लादेशी घुसपैठियों के बहाने राहुल और ममता बनर्जी को घेरा तो वहीं बुआ-बबुआ की जोड़ी को विपक्ष का डर बताते हुए जमकर तंज कसे।

घुसपैठिए को बचा रहे हैं राहुल

अमित शाह के निशाने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी थे। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी बांग्लादेशी घुसपैठियों को बचाने में जुटे हैं। राहुल बताए एनआरसी हो या न हो। हमारी सरकार इस मुद्दे पर कानून बनाने जा रही है। मैं पूछना चाहता हूं कि कांग्रेस इसका समर्थन करेगी या विरोध। यही नहीं उन्होंने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि वोटबैंक के लिए ममता दीदी एनआरसी को नकार रही हैं। ये देश के लिए घातक है।

बुआ-भतीजा हमारे खिलाफ एक हो गए

अमित शाह ने कहा कि मैं 2013 से लगातार यूपी आ रहा हूं। दिल्ली का रास्ता यूपी से ही होकर जाता है। जब तक यूपी का विकास नहीं होगा देश का विकास संभव नहीं है। उन्होंने बीजेपी के खिलाफ यूपी में बन रहे महागठबंध पर भी तंज किया। उन्होंने कहा कि बुआ और बबुआ हमारे खिलाफ एक हो गए हैं। लेकिन ये दोनों मिलकर भी हमें रोक नहीं पाएंगे। पिछले लोकसभा चुनाव में हमने 72 सीटें जीती। इसबार भी एक सीट कम नहीं होगी। अमित शाह ने कहा कि आपके आशीर्वाद से केंद्र और राज्य में हमारी सरकार है। यूपी के विकास के लिए बीजेपी की सरकार गंभीर है। आज यूपी में अराजकता नहीं बल्कि विकास का बोलबाला है। मोदी ने बीएचयू को एम्स जैसा दर्जा दिया है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे और डिफेंस कॉरीडोर बनाने की तैयारी हो रही है।

बीजेपी सरकार पिछड़ों के साथ

उन्होंने कहा कि पिछड़ों को उनका संवैधानिक अधिकार मिलना चाहिए। मोदी सरकार इसके लिए दृःसंकल्प है। हम सदन में ओबीसी बिल लाने जा रहे हैं ताकि पिछड़ों को समाज की मुख्यधारा में जोड़ा जा सके। इस मौके पर उन्होंने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि जिस जगह पंडित दीनदयाल की हत्या हुई आज सालों बाद उसकी पहचान बदल रही है। उन्होंने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है। हम 10 एकड़ में पंडित जी की मूर्ति लगाएंगे।

admin

No Comments

Leave a Comment