लॉकडाउन की बंदिशों के बीच दिनदहाड़े हिस्ट्रीशीटर को गोली से छलनी किया, सम्पति विवाद समेत सभी पहलुओं की जांच

जौनपुर। वैश्विक महामारी कोरोना के चलते देश में लॉॅकडाउन चल रहा है। किसी को बिना उचित कारण घरों से निकलने की इजाजत नहीं है। चौराहों से लेकर चट्टी तक पुलिस तैनात है। बावजूद इसके हौसलाबुलंद बदमाशों ने मंगलवार की दोपहर शहर कोतवाली के हिस्ट्रीशीटर अजीजुल्लाह कुरैशी (35) को गोलियों से छलनीकर मौत के घाट उतार दिया। क्षेत्र के ही खास हौद के पास एक के बाद एक तीन गोलियां सिर में मारी गईं। गोलियों की तड़तड़ाहट सुन लोग मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक हमलावर फरार हो चुके थे। वारदात की सूचना मिलते ही मौके पर फोर्स पहुंच गई। डॉग स्क्वायड ने भी सुराग लगाने की कोशिश की। पुलिस प्रापर्टी डीलिंग,पुरानी रंजिश समेत सभी पहलुओं को जांच में शामिल कर हत्या की वजह तलाश रही है।

एक दिन पहले भी हुआ था विवाद

शहर कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर पुरानी बाजार निवासी अजीजुल्लाह कुरैशी प्रापर्टी डीलिंग से जुड़ा था। सोमवार को कुछ लोग मोबाइल चोरी के आरोप में एक युवक को पीट रहे थे। अजीजुल्लाह ने इसका विरोध किया तो इन लोगों की उसकी कहासुनी हो गई। मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे अजीजुल्लाह रोज की तरह खास हौद के पास स्थित मकबरे की तरफ गया था। इसी बीच ताबड़तोड़ फायरिंग की आवाज आने लगी। शोर सुनते ही लोग उस ओर दौड़ पड़े। वहां जाकर देखा तो मकबरे के पश्चिम उसका खून से लथपथ शव पड़ा था। नजदीक से शूट किये जाने की वजह से चेहरा बुरी तरह से बिगड़ा हुआ था। जानकारी मिलते ही परिजन रोते बिलखते पहुंच गए। किसी ने फोन किया तो पुलिस मौके पर पहुंची। एसपी अशोक कुमार भी घटनास्थल पर पहुंच गए।

मौके से मिले तीन खोखे

मौका मुआयना के दौरान घटनास्थल से 3 खोखे और एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ। थोड़ी देर में फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड भी पहुंच गया। पूछताछ के दौरान परिजन ने एक दिन पहले मोबाइल चोरी का विवाद बताया। प्रापर्टी डीलिंग को लेकर रंजिश भी सामने आई। पुलिस इस पहलू पर भी हत्या के कारणों को तलाश रही है। एसपी ने बताया कि सिर में सटा कर गोली मारी गई है। परिजन से पूछताछ की जा रही है जिसमें कुछ नाम सामने आए हैं। प्रापर्टी डीलिंग वाले बिंदु पर भी टीम लगी है।

Related posts