वाराणसी  बिहार के मुजफ्फरपुर के बाद देवरिया में भी बेटियों के साथ हैवानियत की खबर से हड़कंप मचा हुआ है। सरकार बैकफुट पर है तो अधिकारियों के पसीने छूट रहे हैं। देवरिया के गर्ल्स शेल्टर हाउस में लड़कियों से रेप की खबर के बाद दूसरे जिलों के अधिकारी चौकन्ना दिखे। सीएम के आदेश के बाद वाराणसी के डीएम सुरेंद्र सिंह पूरे लावलश्कर के साछ जैतपुरा स्थित नारी संरक्षण गृह पहुंचें और औचक निरीक्षण किया।

245

व्यवस्था से खुश दिखे डीएम

नारी संरक्षण गृह के औचक निरीक्षण के बाद डीएम वहां की व्यवस्था से खुश दिखे। मीडिया से बातचीत में डीएम ने बताया कि उन्होंने खुद लड़कियों से बात की। सभी लड़कियां यहां मिलने वाली सुविधाओं से संतुष्ट हैं। जिलाधिकारी के मुताबिक संवासिनी गृह में इस वक्त 94 लड़कियां हैं। औचक निरीक्षण के दौरान सभी लड़कियां उपस्थित मिली हैं। डीएम के अनुसार संवासिनी गृह में लड़कियों से शादी के इच्छुक लोगों ने आवेदन किया है। उनसभी लोगों का पुलिस वेरिफिकेशन कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत जिन लड़कियों की उम्र 18 साल हो चुकी हैं उनकी शादी करवाई जाएगी।

246

सीएम के आदेश पर हुई निरीक्षण

देवरिया में हुई घटना के बाद प्रदेश सरकार सकते में है। पिछली घटनाओं से सबक लेते हुए सीएम ने यूपी के सभी जिलाधिकारियों को अपने-अपने जिले में स्थित बालिका संरक्षण गृह का निरीक्षण करने का फरमान जारी किया। साथ ही सभी से तत्काल रिपोर्ट देने का निर्देश दिया।

admin

No Comments

Leave a Comment