निरहुआ ने अखिलेश के हेलीकाप्टर का रिक्शे से दिया ‘जवाब’, सधे राजनेता की तरह ‘दूधवाले’ पर किया हिसाब

आजमगढ़। दो दिन पहले सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव हेलीकाप्टर से नामांकन करने की खातिर आये थे। कई जिलों से लोग सिर्फ अपनी मौजूदगी दिखाने के लिए जुटे थे। इसके पलट भाजपा प्रत्याशी ने शनिवार को अपना नामांकन कुछ ऐसे अंदाज में किया जो आम लोगों को भा गया। भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार निरहुआ ने अपनी हिट फिल्म के किरदार में रिक्शा चलाते हुए नामांकन दाखिल करने के लिए पहुंचे थे। हजारों की भीड़ निरहुआ के लिए भी जुटी थी लेकिन रिक्शे की सवारी उनके मन को छू गयी क्योंकि यह आम लोगों के पहुंच की है। निरहुआ के संग लालगंज की भाजपा प्रत्याशी नीलम सोनकर ने भी नामांकन दाखिल किया।

मोदी की तारीफ के संग विरोधियों पर तंज

अखिलेश ने यहां पर जनसभा में पीएम मोदी के चायवाले बयान पर तंज कसते हुए खुद को दूधवाला बताया था। निरहुआ ने इस पर तंज कसते हुए पूछा कि अखिलेश बता दें कि कब दूध बेचे हैं। दूध दुहने तक आता नहीं और युवाओं को भ्रमित करने के लिए ऐसा कह रहे हैं जिससे वह अपनी शक्ति न जान सके। अखिलेश जातिप्रथा में इसलिये भी विश्वास रखते हैं क्योंकि इसी के जरिये वह न सिर्फ अपनी राजनीति की रोटी सेंकते हैं बल्कि परिवारवाद को आगे बढ़ाते हैं। राजनीति व्यक्तिगत नहीं होती बल्कि विचारधारा के अधार पर होती है। इससे पहले अखिलेश कहते फिरते थे कि राहुल देश का भला कर सकते हैं लेकिन अब उन्हें मायावती में भविष्य दिख रहा है। सच तो यह है कि सिर्फ पीएम मोदी ही देश का भला कर सकते हंै।

बाहुबली के विधायक पुत्र निरहुआ के साथ

आजमगढ़ के पूर्व सांसद बाहुबली रमाकांत यादव भले ही कांग्रेस का हाथ थाम कर भदोही से चुनाव लड़ने चल दिये हैं लेकिन उनके विधायक पुत्र निरहुआ के नामांकन में साथ दिखे। नामांकन में भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार और गायक दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डा. महेंद्र नाथ पांडेय, वनमंत्री दारा सिंह चौहान शामिल रहे। एमएलसी यशवंत सिंह भाजपा जिलाध्यक्ष जयनाथ सिंह, विधायक फूलपुर अरुण यादव, सुरेश शर्मा समेत अन्य लोग नामांकन कक्ष में नामांकन कराने के लिए प्रस्तावक के रूप में पहुंचे थे।

Related posts