वाराणसी। तथागत बुद्ध की प्रथम उपदेशस्थली सारनाथ में रोजाना हजारों की संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं। करोड़ों की योजनाएं चल रही है। बावजूद इसके यहां स्ट्रीट लाइट तक नहीं जलती। इसका फायदा लुटेरे उठा रहे हैं। शनिवार की रात हवेलिया चौराहा के समीप बाइक सवार दो बदमाशों ने कुशीनगर में तैनात शिक्षिका ममता श्रीवास्तव के गले से चेन नोंच ली। वारदात उस समय हुई जब ममता अपने पति आनंद श्रीवास्तव के साथ सारनाथ रेलवे स्टेशन से घर लौट रही थी। झटका लगने से ममचा चलती बाइक गिर गयी और उन्हें चोटों आयी। बावजूद इसके हौसला नहीं छोड़ा और पति के संग बाइक से पीछा कर स्थानीय लोगों की मदद से आशापुर रेलवे क्रासिंग पर दो बदमाशों को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। दोनों बदमाशों को पुलिस हिरासत में लेकर मामले की जाँच में जुट गई।

मिले एक दर्जन एटीएम कार्ड और डालर लेकिन चेन गायब

लोहियानगर कॉलोनी (सारनाथ) निवासिनी ममता श्रीवास्तव कुशीनगर में सहायक अध्यापक के पद पर तैनात है और दशहरे की छुट्टी पर घर आ रही थी। सारनाथ स्टेशन पर पति आनन्द प्रकाश श्रीवास्तव ने रिसीव किया लेकिन घर पहुंचने से पहले बदमाशों का शिकार बन गयी। बदमाशों की तलाशी ली गयी तो उनके पास से विभिन्न बैंकों के एक दर्जन एटीएम कार्ड के अलावा विदेशी मुद्रा भी मिली है। आशंका जतायी जा रही है कि यह विदेशियों को भी अपना शिकार बना चुके हैं। पुलिस की पूछताछ के दौरान तीसरे साथी ने फोन किया जिस पर उसे भी पकड़ लिया गया। घटनाक्रम का शर्मनाक पहलू यह रहा कि तमाम कावयद के बावजूद नोंची गयी चेन नहीं मिल सकी।

admin

No Comments

Leave a Comment