दारु-मुर्गा की पार्टी के बाद रिश्तेदारी में आये हिस्ट्रीशीटर को साथी समेत गोली से उड़ाया, दोहरे हत्याकांड से सनसनी

जौनपुर। डिहिया गांव (खुटहन) की पाल बस्ती में रविवार को श्रीपाल के यहां गाजी मियां का त्यौहार कनूरी था। इसमें बकरा काटकर प्रसाद बनवाया गया था। कार्यक्रम में शामिल होने की खातिर रामकरन पाल (40) निवासी गांव लौहारे कादीपुर (सुल्तानपुर) अपने साथी दिलीप सिंह निवासी बनकटा राजे सुल्तानपुर (अम्बेडकर नगर) भी आये थे। रिश्तेदार में आये रामकरण और उसके साथी को देर रात गोश्त एवं शराब परोसकर आवभगत की गयी। रात लगभग 12 बजे गोलियों की आवाज गूंजने से नींद खुली तो रामकरण और दिलीप की कनपटी से सटा कर मारी गयी गोली से खून बहता दिखा। नजदीक से मारी गयी गोली के चलते दोनों की मौके पर मौत हो गयी। उधर दोहरे हत्याकांड के चलते समूचे क्षेत्र में सनसनी फैल गयी।

बाइक सवार बदमाशों ने दिया अंजाम

मौके पर पहुंची पुलिस को आरम्भिक जांच में पता चला कि मृतक रामकरन पाल न सिर्फ कादीपुर थाने का हिस्ट्रीशीटर है बल्कि उसके खिलाफ हत्या सहित संगीन धाराओं के तहत कई मुकदमे दर्ज हैं। अलबत्ता दूसरे मृतक दिलीप सिंह का कोई आपराधिक अतिहास नहीं मिला और वह मित्रता के चलते रामकरण की रिश्तेदारी में आया था। क्लीन चिट निकला। उस पर कोई मुकदमा नहीं है। घर वालों के मुताबिक बाहर से आये तीन बाइक सवार बदमाशों ने अलग अलग तख्त पर सोये तीन लोगों में से दो को गोली मार दी। वारदात को अंजाम देकर वह भाग निकले।

आला अधिकारियों ने किया मुआयना

दोहरे हत्याकांड की जानकारी मिलने पर आईजी रेज विजय सिंह मीणा खुद मौके पर पहुंचे और मुआयना कर अधीनस्थों को आवश्यक निर्देश दिये। एसपी दिनेश पाल सिंह के मुताबिक दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ विवेचना की जा रही है। पुरानी अदावत समेत सभी पहलुओं को इसमें शामिल किया गया है।

Related posts