‘इंस्ट्रीट्यूट आॅफ इमिनेंस’ के बाद बीएचयू से विश्व रैंकिंग की अपेक्षा, वीसी ने की शिक्षकों व कर्मचारियो की सराहना

वाराणसी। भारत सरकार द्वारा काशी हिन्दू विश्वविद्यालय को देश के 14 संस्थानो के अन्तर्गत इंस्टिट््यूट आॅफ इमिनेंस के रुप में शामिल करने पर कुलपति प्रो. राकेश भटनागर ने इसका श्रेय बीएचयू के शिक्षको एवं कर्मचारियो को दिया। शनिवार को केन्द्रीय कार्यालय के समिति कक्ष में इसे लेकर बैठक में कुलपति ने कहा कि देश के विश्वविद्यालयो को विश्व रैकिंग में शुमार करने के लिए सभी को बीएचयू से अपेक्षाएं हैं। हमे इसके लिए अधिक प्रयास करना होगा। उन्होने इस दिशा में कार्य योजना बनाकर शिक्षण एवं शोध की दिशा में कार्य करने को कहा। उन्होने कहा कि शिक्षण एवं शोध की दिशा में पूर्व में दिए गए महत्वपूर्ण योगदान के चलते यह उपलब्धि हासिल हुई है।

इन्होंने भी रखे विचार

इस अवसर पर डिस्टिग्विस्ट प्रोफेसर ओएन श्रीवास्तव, प्रो. जेएस सिंह, प्रो. एससी लखोटिया आदि ने अपने महत्वपूर्ण सुझाव दिए। कुलपति ने सभी को बधाई देते हुए इस दिशा में और कार्य करने को कहा। इस अवसर पर प्रो. प्रियंकर उपाध्याय, प्रो. टीएम महापात्रा, प्रो. वीके सिंह, प्रो. एएस रघुवंशी आदि ने अपने विचार रखे।

Related posts