चंदौली। नदेसर-मारूफपुर गांव (बलुआ) निवासी वीर सपूत चंदन राय के अंतिम संस्कार के लिए शव आने पर लोगों का हुजूम उमड़ गया। प्रदेश सरकार के मंत्रियों और विधायकों के संग पुलिस-प्रशासन के आला अफसर पहुंचे थे लेकिन परिजनों ने अंतिम संस्कार करने से इनकार दिया। परिजनों का कहना था कि देश के गृह मंत्री इसी जिले के हैं लेकिन उन्होंने आने की जहमत नहीं मोल ली। यही नहीं सीएम योगी को भी शहादत को सलाम करना चाहिये। इनके आने पर ही अंतिम संस्कार किया जायेगा। परिजनों की मांग सुनकर नेताओं और अफसरों से हाथ-पांव फूलने लगे। घंटो मान-मनौव्वल के बाद परिजन अंतिम संस्कार के लिए राजी हुए तब जाकर सभी ने राहत सा सांस ली। राज्यमंत्री अनिल राजभर ने अश्वासन दिया है कि सैदपुर पुल का नाम शहीद चंदन के नाम पर होगा।

1041

सुबह से था नेताओ-अफसरों का जमावड़ा

प्रदेश शासन ने जिले के प्रभारी मंत्री जयप्रकाश निषाद को भेजा था लेकिन इसी इलाके के रहने वाले राज्यमंत्री अनिल राजभर, राज्यमंत्री डा. नीलकण्ठ तिवारी,विधायक सुशील सिंह, साधना सिंह, प्रभु नारायण सिंह यादव, सूर्यमूनी तिवारी,पूर्व सांसद रामकिशुन, जिलाधिकारी हेमंत कुमार,पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह, एसडीएम सकलडीहा, सीओ सकलडीहा त्रिपुरारी पाण्डेय सहित सहित हजारों लोगों ने श्रद्धा सुमन अर्पित किये।

admin

No Comments

Leave a Comment