बलिया। जुड़नपुर गांव (नगरा) में मंगलवार की सुबह साइकिल से कोचिंग जा रही पत्नी संध्या को जुड़नपुर नहर के पास रास्ते मे छुपकर बैठे पति मनीष कुमार राम ने चाकू गोद कर करके उसकी निर्ममता से हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देन ेके बाद आरोपित वहां से भाग कर अपनी ससुराल जुड़नपुर गया। यहां पर साथ लाये बैग से पेट्रोल अपने ऊपर छिड़क कर आग लगा ली। यह मंजर देख लड़की की मां बचाने की कोशिश की जिससे वह भी जल गई। आसपास के लोगों ने आनन-फानन में दोनों को जिला अस्पताल पहुंचाया जहां लड़के की हालत चिंताजनक बनी हुई है एवं सास का इलाज चल रहा है। पुलिस ने संध्या देवी की शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।

779

मायके रहकर पुलिस भर्ती की तैयारी कर रही थी मृतका

जुड़नपुर निवासिनी संध्या देवी का विवाह तीन साल पहले इसी थाना क्षेत्र के कुसही निवासी मनीष कुमार राम से हुआ था। कुछ माह पहले किसी बात को लेकर दोनों मैं तनाव हो गया था जिससे संध्या देवी अपने मायके जुड़नपुर आकर रह रही थी एवं पढ़ाई कर रही थी। कई बार मनीष अपनी पत्नी को मनाने की कोशिश कर रहा था लेकिन संध्या देवी उसकी बात सुनने को तैयार नहीं थी इससे वह बहुत परेशान रहने लगा। संध्या ने पुलिस भर्ती की तैयारी शुरू कर दी थी। मंगलवार की सुबह संध्या साइकिल से कोचिंग जा रही थी। जुड़नपुर नहर के पास पहले से घात लगाए बैठे उसका पति उसके ऊपर चाकू से हमला कर दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहां से भाग कर अपनी ससुराल गया और अपने ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगा दिया। यह देख लड़के की सास दुलारी देवी वहां पहुंची और उसको बचाने का प्रयास करने लगी जिससे वह खुद ही झुलस गई। मनीष कुमार राम लगभग 60 प्रतिशत जल चुका है और उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। दुलारी देवी का इलाज चल रहा है और दशा खतरे के बाहर बतायी गयी है।

admin

No Comments

Leave a Comment