मौत के बाद दो लोग निकले कोरोना पॉजिटिव तो उड़ी स्वास्थ्य विभाग की नींद, प्रवासियों के चलते रोज बढ़ी रही गिनती

भदोही। अब तक तो कोरोना संदिग्ध की जांच के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आती थी लेकिन जिले में मौत के बाद दो लोगों में कोरोना का संक्रमण पाए जाने से हड़कंप मचा है। एक वृद्ध और दूसरे युवक के रक्त नमूनों की जांच में संक्रमण धनात्मक (पॉजिटिव) निकला है। जिला प्रशासन अब सम्बन्धित लोगों के संपर्क में आए व्यक्तियों की निगरानी में जुट गया है। सीएमओ डा. लक्ष्मी सिंह के अनुसार 10 दिन पूर्व जिले में दो लोगों की मौत हो गई थी। जिसके बाद परिजनों को अंतिम संस्कार करने पर प्रतिबंधित कर दिया गया था। मौत के बाद उनके रक्त को जांच के लिए भेजा गया था। मिली जांच रिपोर्ट में दोनों लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। मिले तीन और संक्रमितों के बाद मरीजों की संख्या कुल 14 हो गई है जिसमें तीन लोग ठीक हो चुके हैं।

सम्पर्क में आने वाले जांच की जद में

डा.सिंह के अनुसार ज्ञानपुर कोतवाली के सरपतहां गांव निवासी एक बुजुर्ग की रीवां (एमपी) में मौत हो गई थी। उसका शव घर लाया गया। जब जिला प्रशासन को पता चला तो परिजनों से कहा गया कि इनकी जांच के बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा। बाद में बुजुर्ग का सैम्पल जुटाया गया। फिर स्वास्थय विभाग ने ही बुजुर्ग का अंतिम संस्कार किया था। दूसरी घटना करोड़ गांव (सुरियांवा) की है जहां एक युवक 11 मई को मुम्बई से जंगीगंज आया। बाद में उसका भाई साइकिल से उसे घर लाने के लिए गया। वह खुद भाई को बैठा साइकिल चलाता हुआ घर आया। रात में आराम से लेटा और सुबह उसकी मौत हो गई। उसकी भी जांच कराई गई। इस तरह दोनों की जांच कोरोना पॉजिटिव मिली है। इस तरह की घटनाओं के बाद जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया है। अब संबंधित लोगों के संपर्क में आए व्यक्तियों की तलाश शुरू हो गई है। दोनों एम्बुलेंस चालक की भी जांच होगी क्योंकि शवों के अंतिम संस्कार के लिए वहीं ले गए थे। जांच के अब उन्हें भी एकांतवास में रखा जाएगा।

बाहर से आने वाले संक्रमण का सबब

रघुरामपुर (सरावां, रमईपुर) गांव (ऊंज) में कुछ दिन पूर्व एक परिवार मुम्बई से अपनी निजी गाड़ी से घर आया था। परिवार में तेज बुखार और खांसी से संक्रमित पाए जाने पर स्वस्थ्य विभाग ने परिवार के सभी 16 सदस्यों को एकांतवास में रखा है। परिवार में किसी वृद्ध की कोरोना संक्रमण से मुम्बई में मौत हुई थी। जिसके बाद लोग अंतिम संस्कार की धार्मिक परंपरा के निर्वहन के लिए गांव आए थे। शुक्रवार को एक- एक कर परिवार के सभी लोगों की जांच रिपोर्ट आ गई। परिवार में एक और व्यक्ति के पॉजिटिव पाए जाने से मरीजों की संख्या चार हो गई है। इसमें 12 वर्षीय बच्चा के साथ उसकी मां, चाची और दादा भी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इस गांव को सील कर दिया गया था। जीयनपुर गांव में भी दो लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, जिसमें एक महिला और एक पुरुष हैं। दोनों वृद्ध बताए गए हैं। ज्ञानपुर तहसीलदार देवेंद्र कुमार यादव गाँव में पहुंच कर बस्ती को सील करने की प्रक्रिया शुरू कर दिया है। सीएमओ ने बताया है कि तीन लोग पॉजिटिव मिले हैं। अभी उनकी डिटेल नहीं मिल पाई है।

Related posts