अपहरण के कुछ घंटों के बाद मिला मासूम तो रूके नहीं मां के आंसू, सूचना पर पुलिस ने की थी त्वरित कर्रवाई

मऊ। दोहरीघाट इलाके से एक तीन साल के मासूम का अपहरण करने की सूचना मिलने के बाद एसपी अनुराग आर्य ने अधीनस्थों से त्वरित कार्रवाई करायी जिसका परिणाम कुछ घंटों में सामने आ गया। मुखबिर की सूचना पर गोठा हरेन्द्र सिंह के ईंट भठ्ठे के पास स्थित लेबर झोपड़ी से अपहृत 3 वर्षीय बालक आयुष को सकुशल बरामद कर अपहरण करने वाली महिला को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार महिला प्रमिला नालंदा (बिहार) की रहने वाली है और उससे पूछताछ क जा रही है। उधर बेटे के मिलने के बाद भी मां के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे।

कुछ इस तरह रहा घटनाक्रम

दोहरीघाट निवासी दिलपसन्द ने अपने बच्चे आयुष का किसी अज्ञात महिला द्वारा अपहरण कर लिये जाने की सम्बन्ध में लिखित सूचना 10 फरवरी की रात थाने पर दी थी। इस पर फौरन ही अज्ञात के खिलाफ मुकदमा कायम कर तलाश शुरू की गयी। पिता की आर्थिक स्थिति फिरौती देने की थी नहीं और किसी से रंजिश भी सामने नहीं जिसमें अपहरण किया जाता। एसओ रुपेश सिंह ने मुखबिरों को सक्रिय किया गया जिस पर सूचना मिली कि गोठा में हरेन्द्र सिंह के भठ्ठे पर अपहरणकर्ता के साथ मौजूद है जो कहीं जाने की फिराक में है। इस सूचना पर तत्काल ईंट-भठ्ठा परिसर में स्थित लेबर झोपड़ी जहां से एक बच्चे के रोने की आवाज आ रही थी कि तत्काल घेर लिया गया। दरवाजा खुलवाया गया तो एक महिला भागने की कोशिश की जिसको मौजूद महिला आरक्षी द्वारा पकड़ लिया गया। पूछताछ में उक्त महिला ने अपना नाम प्रमीला देवी पत्नी दुर्गा मांझी निवासिनी पैठना थाना इस्लामपुर जनपद नालंदा बिहार बताया।

Related posts