मऊ। गरीबों और मजलुमों की सहायता के लिए अपना पूरा जीवन न्‍यौछावर कर देने वाले सुबहानुल्‍लाह अंसारी की 12वीं पुण्‍यतिथि पर अंसारी परिवार व शुभचिंतकों ने उनके युसुफपुर मोहम्मदाबाद स्थित मजार पर फूलों का चादर चढ़ाकर दुआ मांगा। कुरानखानी पढ़ी गयी। हजारों गरीबों को प्रीतिभोज के रुप भोजन कराया गया। मऊ में तथा  गाजीपुर मुहम्‍मदाबाद में  आस-पास के क्षेत्रों से आये हजारों हजारों गरीबों को कम्‍बल प्रदान किया गया।

788

गरीबों में बांटा कम्बल

इस अवसर पर पूर्व सांसद अफजाल अंसारी, पूर्व विधायक सिबगतुल्‍लाह अंसारी, बसपा के युवा नेता अब्बास अंसारी, मन्नू अंसारी, सलमान अंसारी, उमर अंसारी, प्रतिनिधि बृजेश जायसवाल, मऊ नगरपालिका के चेयरमैन तय्यब पालकी, मुहम्‍मदाबाद के चेयरमैन शमीम अहमद, शंभू अकेला, ब्‍लाक प्रमुख मुहम्‍मदाबाद व ब्‍लाक प्रमुख भांवरकोल उपस्थित थें। बसपा के युवा नेता अब्बास  अंसारी ने बताया कि दादा सुभानुल्‍लाह अंसारी के परम्‍परा को कायम रखने के लिए हर संभव प्रयास अंसारी परिवार करेगा। गरीब और मजलुमों के लिए अंसारी परिवार का दरवाजा हमेशा खुला रहेगा। कोई भी साधू, संत, फकीर इस दरवाजे से खाली हाथ नही जायेगा। कंबल पाकर हजारों गरीबों के चेहरे पर खुशी का एहसास था। इस भीषण ठंड में उन्‍हे कंबल के रुप में राहत मिला।

787

786

admin

No Comments

Leave a Comment