एक चिंगारी बन गयी कइयों की मौत का सबब, पांच की मौत के संग आधा दर्जन की दशा अति गंभीर

आजमगढ़। वेल्डिंंग करते समय चिंगारियां निकलती रहती है लेकिन यह कितनी प्रलयकारी हो सकती है इसका नमूना रविवार को मुकेरीगंज मुहल्ले में देखने को मिला। यहां दुकान में प्रवेश करने के लिए लोहे की सीढ़ी की वेल्डिंग करायी जा रही लेकिन होली पर बेचने के लिए मंगाया गया पटाखे का स्टाक भी इसके पीछे मौजूद था। चिंगारी छिटक कर इस ढेर तक पहुंची तो धमाकों का सिलसिला आरम्भ हो गया। आसपास के लोग समझे तब तक दो मंजिला मकान आग की आगोश में ही नहीं था बल्कि धमाकों का सिलसिला धमने का नाम नहीं ले गया था। एक दर्जन से अधिक लोग गंभीर रूप से झुलस गये। मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के मकानों को खाली कराने के संग घायलों को अस्पताल भेजना शुरू किया। उपचार शुरू होनवे से पहले पांच काल के गाल में समा चुके थे जबकि आधा दर्जन को जीवन-मृत्यु के बीच संंघर्ष के दौरान दशा नाजुक देखते हुए ट्रामा सेंटर बीएचयू रेफर कर दिया गया।

दो घंटे बाद आग बुझायी जा सकी

पुलिस के मुताबिक शाम लगभग चार बजे वेल्डिंग की चिंगारी छिटक कर पटाखों के ढेर पर गिरी जिसके बाद धमाके होने लगे। मौजूद लोगों को भागने का मौका तक नहीं मिल सका। सूचना मिलने पर फायर बिग्रेड को बुलाया गया जिसने दो घंटे से अधिक तक चली मशक्कत के बाद किसी तरह काबू पाया। झुलसे लोगों तो अस्पताल भेजा गया जहां तीन तो पहुंचने के पहले मर चुके थे जबकि दो ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इनके अलावा आधा दर्जन की दशा अन्यत नाजुक है जबकि कई अन्य मामूली रूप से झुलसे हैं। राहत और बचाव कार्य देर रात तक चल रहा था और आला पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौके पर डटे थे।

Related posts