आजमगढ़। पूर्वांचल में अपराधियों का उनकी भाषा में जवाब देने वाली आजमगढ़ पुलिस ने मंगलवार की रात चेकिंग के दौरान फायरिंग कर भागने की कोशिश कर रहे बदमाशों पर जवाबी कार्रवाई की। पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से एक बदमाश घायल हो गया। घायल बदमाश की पहचान 50 हजार के इनामी दीपक उर्फ विजय यादव के रूप में होने पर पुलिस टीम के चेहरे खिल गये। मुठभेड़ के दौरान एक अन्य बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। पिछले माह गोली मार कर लूट समेत पुलिस को कई मामलेों में दीपक की तलाश थी। प्रदेश ही नहीं दिल्ली तक उसने वारदातों को अंजाम दिया था।

चेकिंग के दौरान मिली सफलता

एसपीआरए एनपी सिंह ने बताया कि इंस्पेक्टर रानी की सराय शिवशंकर सिंह मंगलवार की रात रात्रि गश्त पर निकले थे। रूदरी नहर की पटरी से होते हुए गुजरते समय पुल के पास एक बाइक आते दिखी। सिपाहियों ने बाइक रुकने का इशारा किया तो सवार फायर कर भागने लगे। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में गोली लगने से बाइक पर पीछे बैठा बदमाश घायल हो गया और बाइक पलट गयी। मौका पाकर साथी बदमाश फरार हो गया। घायल बदमाश को मंडलीय अस्पताल के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

दिल्ली में भी की थी लूट

एसपी के मुताबिक विजय 17 जुलाई को रानी की सराय थाने के कोटिला पोखरी के पास शराब कारोबारी के मुनीम से हुई 10.5 लाख रुपए की लूट में शामिल था। यहां से भागने के बाद वह दिल्ली के आदर्श नगर थाना क्षेत्र में भी 18 लाख की लूट की घटना को अंजाम दिया। फरारी के दौरान विजय पर डीआईजी की ओर से पचास हजार का इनाम घोषित किया है। घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे डीआईजी आजमगढ़ रेंज विजय भूषण ने टीम का उत्साहवर्धन किया।

admin

No Comments

Leave a Comment