पूर्वांचल से लेकर दिल्ली तक आतंक का पर्याय 50 हजारा इनामी राकेश पासी मुठभेड़ में ढेर, साथी जख्मी

आजमगढ़। पूर्वांचल के विभिन्न जनपदों में ही नहीं बल्कि दिल्ली तक संगीन वारदातों का अंजाम देकर आतंक का पर्याय बन चुके 50 हजारा इनामी राकेश पासी को आजमगढ़ पुलिस ने जहानागंज इलाके में एक साहसिक मुठभेड़ के दौरान मार गिराया। मुठभेड़ में राकेश पासी का साथी पप्पू पासी सहित पुलिस का एक कांस्टेबिल गोली लगने से घायल हो गया। राकेश पासी पर हत्या लूट रंगदारी सहित दर्जनों मुकदमे दर्ज थे। प्रदेश पुलिस ने राकेश पासी पर 50 हजार का इनाम घोषित कर रखा था। मुठभेड़ की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे डीआईजी विजय भूषण ने मीडिया से बातचीत में बताया कि राकेश पासी एक शातिर अपराधी था। उसने केवल सिर्फ आजमगढ़ में ही नहीं बल्कि पूर्वी उत्तर प्रदेश के साथ दिल्ली तक अपना आतंक फैला रखा था। डीआईजी रेंज के मुताबिक मुठभेड़ में जख्मी राकेश पासी के साथी पप्पू पासी से पूछताछ के बाद पुलिस को और भी बड़ी कामयाबी मिल सकती है

चेकिंग के दौरान भागने के लिए बरसायी गोलियां

डीआईजी के मुताबित चक्रपानपुर (जहानागंज) में दिन के लगभग साढ़े 10 बजे चक्रपानपुर चेकिंग कर रही पुलिस ने दो बाइक सवारों को रुकने का इशारा किया तो वह फायरिंग करते हुए भागने लगे। जवाबी कार्रवाई मैं पुलिस ने भी गोलियां चलाना शुरू कर दी। क्रास फायरिंग के चलते पूरा क्षेत्र गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा। फायरिंग बंद होने पर लोगों को पता चला की मुठभेड़ चल रही थी। दरअसल पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि दर्जनों मामले में वांछित कुख्यात अपराधी राकेश पासी किसी बड़ी घटना को अंजाम देने आ रहा है। इसके बाद पुलिस ने यह जाल बिछाते हुए वाहन चेकिंग शुरू की थी। लगभग 15 मिनट तक चली इस मुठभेड़ में राकेश पासी और उसके सहयोगी पप्पू पासी पुलिस की गोली से घायल हो चुके थे जबकि राकेश की तरफ से की गई फायरिंग में आजमगढ़ पुलिस का एक जवान सनी कुमार गोली लगने से घायल हो गया था। आनन-फानन में सभी लोगों को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जहानागंज ले जाया गया जहां डाक्टरों ने तीनों की हालत की गंभीर देखते हुए आजमगढ़ जिला अस्पताल रेफर कर दिया। इलाज से पहले रास्ते में ही राकेश पासी ने दम तोड़ दिया जबकि उसके साथी पप्पू पासी और घायल पुलिसकर्मी का उपचार जिला अस्पताल में चल रहा है। आजमगढ़ पुलिस राकेश पासी के एनकाउंटर को अपनी बड़ी उपलब्धि मान रही है।

Related posts